पुलिस नही अब गाँव के युवक रोकेंगे अवैध कार्य, शुरुआत में ही पकड़ा अवैध शराब का जखीरा

जबलपुर।संदीप कुमार

अमूमन अवैध शराब के निर्माण का भंडाफोड़ आबकारी विभाग(Excise Department) या पुलिस(police) करती आ रही है। लेकिन यह पहली बार सामने आया जब गांव के लड़कों ने अपने खुद के व्हाट्सएप ग्रुप(whatsapp group) और जागरूकता के माध्यम से अवैध शराब निर्माण करने वालों का भंडाफोड़ किया। गांव के युवको ने स्वयं पहाड़ी पर जाकर सर्चिंग की और अवैध शराब भंडारण सहित ड्रम आदि को नष्ट किया।साथ ही इसकी सूचना ग्राम के सरपंच एवं कोटवार को दी गई।जहाँ बाद में पुलिस को सूचित कर मामला कायम किया गया।मामला पनागर थाना के तिदनी गांव की है।

जानकारी के मुताबिक गांव की कुछ जागरूक युवकों द्वारा व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया है।गांव में कुछ दिनों से बाहरी लोगों की आवाजाही बढ़ गई थी जिसके चलते लड़कों को कुछ संदेह हुआ और उन्होंने गांव में निगरानी रखनी शुरू कर दी।बीती रात गांव की नहर के पास एक ऑटो(auto) रात को करीब 12:00 बजे खड़ा मिला। संदेह होने के बाद लड़कों ने सुबह खुद गांव की पहाड़ी पर तलाश शुरू कर दी। घंटों की मेहनत बाद पहाड़ी के एक हिस्से में अवैध ड्रम जमीन में गड़ा हुआ मिला।इसके बाद लड़कों ने तलाश को तेज किया तो उन्हें कुछ और ड्रम एवं अवैध देशी शराब की भट्टी भी नजर आई।युवकों ने करीब 12 से 15 अवैध स्टॉक की हुए ड्रम को पकड़ा है।

सरपंच को दी गई सूचना

लड़कों ने ग्राम के सरपंच अरविंद महोबिया एवं कोटवार गंगू को इस घटना की सूचना दी। मौके पर सरपंच ने पनागर थाना को सूचित किया और पहाड़ पर बनाई जा रही अवैध देसी शराब का विनिस्टिकरण करने के साथ पंचनामा बनाया गया।