Ordnance Factory: रक्षा उत्पादन सचिव का कर्मचारियों को प्रस्ताव, लिखित सुझाव की अपील

Ordnance Factory

जबलपुर, संदीप कुमार। ऑर्डनेंस फैक्ट्रीयों (Ordnance Factory)  की कार्यकुशलता को बेहतर बनाने के लिए हर कर्मचारी अपने सुझाव यूनियन फेडरेशन के माध्यम से सरकार को भेज सकता है। इस दौरान कर्मचारियों की तरफ से ऑल इंडिया डिफेंस एम्पलाइज फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एसएन पाठक ने रक्षा उत्पादन सचिव राजकुमार जी की अध्यक्षता में कॉन्सिलिएशन प्रक्रिया के तहत रक्षा मंत्रालय मे विडियो कॉन्फ्रेश के जरिए संपन्न हुई बैठक में AIDEF, INDWF,BPMS के पदाधिकारियों की तरफ से अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि आयुध निर्माणीयों की स्थापना देश की रक्षा के लिए आवश्यक युद्धक सामग्री के उत्पादन के लिए की गई थी।

यह संस्थान अपने वर्तमान सेटअप में ही बेहतर गुणवत्ता युक्त उत्पादन दे सकते हैं अत: इन संस्थानों का निगमीकरण या निजीकरण देश हित में नहीं है। जिस पर से सचिव रक्षा उत्पादन ने कहा कि है कि फेडरेशनो के तरफ से लिखित रूप में प्रस्ताव 20 नवंबर तक प्रस्तुत किया जाए ताकि प्रस्ताव विचारण उपरांत EGOM स्तर पर कार्यवाही हेतु प्रस्तुत किया जा सके। ऑल इंडिया डिफेंस एम्पलाइज फेडरेशन द्वारा सर्कुलर के माध्यम से सम्बद्ध यूनियनों के पदाधिकारियों कर्मचारी नेताओ से ऑर्डनेंस फैक्ट्री की बेहतरी के लिए सुझाव मांगे गए है।

Read This: Heart Attack : दिल का दौरा पड़ने से वरिष्ठ BJP नेता का निधन, पार्टी में शोक लहर

जी सी एफ मज़दूर संघ “हथौड़ा”, व्ही एफ जे वर्कर्स यूनियन “स्टार”,लेबर यूनियन, जीआईएफ मजदूर यूनियन, ओएफके मजदूर संघ, एम्प्लाइज यूनियन ओएफइटा,के पदाधिकारियों आर एन शर्मा, शिव पांडे, मिठाई लाल रजक,श्रीराम मीणा, रोहित यादव, राजा पांडे, अर्नब दासगुप्ता, पुष्पेंद्र सिंह, सुनील श्रीवास्तव, अम्बरीष सिंह,नितेश सिंह,विरेंद्र साहू,मनोज साहू, अमित चंदेल, आशीष विश्वकर्मा, रितेश बेन, इत्यादि ने सभी कर्मचारी अधिकारी साथियों से भी ऑर्डिनेंस फैक्ट्रियों की बेहतरी के लिए लिखित सुझाव देने की अपील की है।