हादसे से बेखौफ ओवर लोड बसें दौड़ रहीं सड़क पर, CM के गुस्से के बाद ट्रांसपोर्ट अमले की खुली नींद, मंत्री भी सड़क पर

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। सीधी (Sidhi) में हुए बस हादसे में जान गंवाने वाले 51 लोगों के परिवारों पर क्या बीत रही होगी इसका अंदाजा उन लोगों को नहीं हो सकता जो अपनी कमाई के लालच में दूसरों की जान की परवाह नहीं करते। सीधी में हुए हादसे के बाद भी बस माफिया बेखौफ ओवर लोड बसें दौड़ा रहे हैं। ये हकीकत तब उजागर हुई जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) के गुस्से के बाद परिवहन अमला (Transport staff)सड़कों पर उतरा। परिवहन आयुक्त (Transport Commissioner) को चैकिंग के दौरान ओवर लोड, नियम विरुध्, बिना फिटनेस बसें दौड़ती मिली। हालात ये थे कि 32 सीटर बस में 67सवारी तक भरी हुई थीं। नाराज परिवहन आयुक्त (Transport Commissioner) ने बस को जब्त किया और परमिट निरस्त करने के आदेश दिये।

हादसे से बेखौफ ओवर लोड बसें दौड़ रहीं सड़क पर, CM के गुस्से के बाद ट्रांसपोर्ट अमले की खुली नींद, मंत्री भी सड़क पर

सीधी बस हादसे (Sidhi Bus Accident) के बाद गुस्से में आये मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने परिवहन विभाग (Transport Department) के अधिकारियों की जमकर फटकार लगाई है। सीधी (Sidhi) के RTO सहित अन्य अधिकारियों के निलंबन के बाद मुख्यमंत्री ने सघन चैकिंग के निर्देश दिये। परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत (Govind Singh Rajput) ने भी खुद सड़क पर उतरकर औचक निरीक्षण की बात कही। मुख्यमंत्री और विभागीय मंत्री की नाराजी का असर ये हुआ कि पूरा परिवहन अमला ही प्रदेश में सड़क पर उतर आया। परिवहन आयुक्त मुकेश जैन (Transport Commissioner Mukesh Jain) स्वयं क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय ग्वालियर तथा संभागीय उड़नदस्ता ग्वालियर की टीम के साथ सड़क पर उतरे। उन्होंने पनिहार थाना क्षेत्र, विक्की फैक्ट्री तिराहे और मालवा कॉलेज तिराहे पर लगभग 21बसों  में  परमिट, फिटनेस, बीमा, लायसेंस आदि दस्तावेजों तथा बसों में ओवरलोडिंग की चेकिंग की ।

हादसे से बेखौफ ओवर लोड बसें दौड़ रहीं सड़क पर, CM के गुस्से के बाद ट्रांसपोर्ट अमले की खुली नींद, मंत्री भी सड़क पर

32 सीटर भी में 67 सवारी, बस जब्त परमिट होगा निरस्त

चैकिग के दौरान 32 सीटर बस क्र. MP07 P 0419 में 35 सवारी ओवरलोड मिली यानि 32 सीटर बस में 67 सवारी थी, परिवहन आयुक्त ने ड्राईवर को जमकर फटकार लगाई और बस को जब्त कर पनिहार थाने में रखवाया गया। आयुक्त ने कहा कि इस बस का परमिट निरस्त करेंगे। इसी प्रकार एक अन्य बस क्रमांक MP32 P 0184 में 20 सवारी ओवर लोड थी इस बस का बीमा, फिटनेस नहीं होने पर आयुक्त ने इस बस को जब्त कर कंपू थाने में रखवा दिया। इसी प्रकार MP07 P7039 परमिट न होने पर जप्त कर झांसी रोड थाने में  रखवाई गई। इसके साथ ही बस क्र. MP45 P 0229,MP07 P1707,MP33 P 0624 तथा MP07 P 2199 पर मोटर व्हीकल एक्ट की विभिन्न धाराओं के अंतर्गत चालानी कार्यवाही की गई।

हादसे से बेखौफ ओवर लोड बसें दौड़ रहीं सड़क पर, CM के गुस्से के बाद ट्रांसपोर्ट अमले की खुली नींद, मंत्री भी सड़क पर

ओवर लोड बसों के परमिट होंगे निरस्त, बसें होंगी ब्लैक लिस्ट

परिवहन आयुक्त मुकेश जैन ने कहा कि सभी बस संचालकों को यात्रियों की सुरक्षा को सर्वोपरि रखने के लिए निर्देश दिये जा आरहे हैं। बसों में निर्धारित क्षमता से अधिक यात्रियों को बैठाने वाली ओवर लोडेड बसों
के परमिट निरस्त करने की कार्यवाही की जा रही है। ओवर लोडिंग के साथ साथ बसों के फिटनेस के अंतर्गत आने वाले विभिन्न बिंदुओ पर भी जाँच की जा रही है । उन्होंने कहा कि ओवर लोड एवं फिटनेस के मानक पर खरी ना उतरने वाली बसों के परमिट निरस्त कर बसों को ब्लैक लिस्ट किया जा रहा है।

हादसे से बेखौफ ओवर लोड बसें दौड़ रहीं सड़क पर, CM के गुस्से के बाद ट्रांसपोर्ट अमले की खुली नींद, मंत्री भी सड़क पर

परिवहन मंत्री भी उतरे सड़क पर, किया निरीक्षण

सीधी बस हादसे के बाद स्टाफ में कसावट लाने और उनकी चैकिंग की हकीकत जाने परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत (Govind Singh Rajput) भी आज सड़क पर उतरे। परिवहन मंत्री ने रायसेन व होशंगाबाद रोड पर की चेकिंग की कार्रवाई का निरीक्षण किया इस कार्यवाही में एडिशनल ट्रांसपोर्ट कमिश्नर अरविंद सक्सेना, आरटीओ भोपाल संजय तिवारी, आरटीओ विदिशा गिरजेश वर्मा आरटीओ होशंगाबाद ,सीहोर भी उपस्थित थे ।