लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई: 10 हजार रूपयों की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ाया पटवारी, 40 हज़ार की मांगी थी घूस, गिरफ्तार

न्यायलय में केस जितवाने, नामांतरण और पावती कराने के नाम पर मांगी थी रिश्वत।

नीमच, कमलेश सारडा। नीमच के ग्राम दारू में उज्जैन लोकायुक्त की टीम ने छापामार कार्रवाई करते हुए पटवारी को रिश्वत के मामले में गिरफ्तार किया है। मामले में पटवारी को 10 हज़ार रुपय की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया है। मामले में आरोपी ने फरियादी  से 40 हजार रुपय मांगे थे जिसकी फरियादी पहली किश्त दे रहा था। वहीं लोकायुक्त को मिली सूचना पर छापामार कार्रवाई की गई।

ये भी देखें-किसानों के साथ बड़ी ठगी, ना तालाब खुदे ना मछली मिली, डकार लिए करोड़ों रुपये

जानकारी के अनुसार आवेदक पुरषोत्तम पाटीदार से जमीन के नामांतरण व पावती बनाने के लिए पटवारी ने 40 हज़ार रुपये की डिमांड की थी। वहीं पटावरी आरोपी संतोष शर्मा को 10 हज़ार रुपये की रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया। खबर के मुताबिक फरियादी पुरुषोत्तम पाटीदार के द्वारा खेती की जमीन गुलाबचंद गायरी से खरीदी गई थी जिसे वह अपनी बहु संगीता पाटीदार के नामान्तरण करना चाहता था। उक्त जमीन का केस तहसील न्यायलय में चल रहा था। इस दौरान फरियादी की मुलाकात पटवारी संतोष शर्मा से हुई। उसने अपनी परेशानी के संबंध में पटवारी संतोष शर्मा को बताई। जिसको लेकर पटवारी ने न्यायलय में केस जितवाने, नामांतरण और पावती कराने के नाम पर 40 हजार रुपयों की रिश्वत की माँग की गई।

ये भी देखें-देवास के देवशक्ति कृषि सेवा केन्द्र विजयागंज मंडी पर FIR दर्ज, यह है मामला

वहीं मामले को लेकर फ़रियादी रक़म देने में सक्षम नहीं था जिसके संबंध में फरियादी ने पुलिस में शिकायत की। वहीं निरीक्षक राजेन्द्र वर्मा के निर्देशन में टीम भेजी गई गई जिसमें उज्जैन पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त शैलेन्द्र सिंह चौहान ने कार्रवाई करते हुए आरोपी संतोष शर्मा को 10 हजार रुपय की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया है।

https://vimeo.com/574865110