भोपाल,डेस्क रिपोर्ट। एमपी उपचुनावों (MP By-election) से पहले किसान कर्जमाफी (Farmer debt waiver) को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ कमलनाथ (Former Chief Minister and PCC Chief Kamal Nath) की पेनड्राइव (Pen drive) ने सियासी गलियारों में हलचल मचा दी है।बीजेपी-कांग्रेस (BJP-Congress) में जमकर जुबानी जंग चल रही है। अब गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) ने कांग्रेस की पेनड्राइव पर हमला बोला है। नरोत्तम का कहना है कि मैं शुरू से कहता हूं ये पेनड्राइव, ट्वीटर ओर टीवी की सरकार है। वो किसान के खेत पर पहुंच जाए और चार किसान के कंधे पर हाथ रखकर बोले कि इनका दो दो लाख कर्जा माफ कर दिया था तो अच्छा लगे।

नरोत्तम ने कहा कि पहले ही ऐसा बंडल जारी कर दिया था, पहले पेन(दर्द) दिया अब ड्राइव पर ले जा रहे है।पहले पेन दिया, झूठा कर्जमाफी का वादा करके अब ड्राइव कर रहे है। पूरी पेनड्राइव ने एक नाम निकाल के दिखा दे जिसका 2 लाख का कर्जा माफ हुआ हो

कांग्रेस की देवास जा रही जांच टीम पर नरोत्तम ने तंज कसते हुए कहा कि सब सरकार में थे तब कभी नही गए। किसानों को इतना नासमझ समझ रहे है, हमारे कृषि मंत्री खेत खेत जा रहे है।जैसे ही कांग्रेस की सरकार बनी कोरोना तो बाद में आया ये पहले वल्लभ भवन में कोरेन्टीन हो गएकिसान सब समझते है कि उन्होंने किसानों को देखा दिया, सर्वाधिक झूठ बोलने वाले मुख्यमंत्री कमलनाथ है।कांग्रेस की बैठक पर बोले, ये बंद कमरे में ही करेंगे जो करेंगे ये फीड बैक उनसे ले रहे है, जो जनता से मिले नही।

बता दे कि कमलनाथ ने मीडिया के सामने एक पेनड्राइव (Pen drive) लहराते हुए यह सनसनीखेज दावा किया कि इस पेन ड्राइव में 26 लाख उन किसानों के नाम, पते और अकाउंट नंबर सहित वह सारी राशि दर्ज है जो कर्ज के रूप में माफ की गई है । कमलनाथ ने यह भी कहा कि आने वाले उप चुनाव मध्यप्रदेश के भविष्य का निर्धारण करेंगे और जो लोग यह आरोप लगा रहे हैं कि कमलनाथ उन्हें मिलने का समय नहीं दे रहे थे जनता उनसे यह पूछेगी कि आखिर कितने पैसे लेकर उन्होंने बीजेपी ज्वाइन की। कमलनाथ ने बताया कि पिछले चार माह से कांग्रेस के संगठन को मजबूत करने में लगे हैं क्योंकि मुकाबला बीजेपी के संगठन से है। सिंधिया के द्वारा कमलनाथ सरकार के 15 माह के कार्यकाल को भ्रष्टाचार का कार्यकाल बताने पर कमलनाथ ने कहा कि यह तो जनता से जाकर पूछो कि ग्वालियर में सिंधिया ने कितना भ्रष्टाचार किया है।