PMT 2011 Scam: CBI की जांच पूरी, डॉ गोयनका सहित 57 के खिलाफ आज पेश होगी चार्जशीट

बता दे कि इससे पहले 2012 के पीएमटी में भी गड़बड़ी के आरोप में डॉक्टर गोयंका को जेल भेजा गया था।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में 2011 में हुए पीएमटी व्यापम घोटाले (PMT 2011 Scam) केस में सीबीआई (CBI) ने अपनी जांच पूरी कर ली है। इसके बाद आज गुरुवार को सीबीआई चिरायु मेडिकल कॉलेज (chirayu medical college)  के संचालक अजय गोयनका (ajay goenka) सहित 57 लोगों के खिलाफ चार्जशीट (chargesheet) पेश करेगी। बता दें कि इन सभी आरोपियों पर वर्ष 2011 में पीएमटी व्यापम घोटाले में लाखों रुपए लेकर सीट बेचने का आरोप है।

दरअसल पिछले 5 साल से सीबीआई पीएमटी 2011 व्यापम घोटाले की जांच कर रही थी। जिसकी जांच पूरी हुई है। जांच में सीबीआई ने पाया कि चिरायु मेडिकल कॉलेज में साल 2011 में 39 सीटों को बेचा गया था। वहीं सीटों के लिए बड़ी रकम ली गई थी। जिसकी जांच में सीबीआई ने चिरायु मेडिकल कॉलेज के संचालक डॉ गोयनका सहित 57 लोगों को दोषी माना है। उन पर सरकारी कोटे की 39 सीटों को 50 लाख तक रुपए में बेचने का आरोप है।

Read More: MP Board: 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए माशिमं ने लिया ये बड़ा निर्णय

वहीं सीबीआई ने अपनी जांच में ये भी पाया कि चिरायु प्रबंधन को इस घोटाले की जानकारी थी लेकिन प्रबंधन द्वारा इसे नजरअंदाज किया गया है। इसके बाद मेडिकल एजुकेशन के अफसरों सहित मेडिकल कॉलेज के एडमिशन कमीशन के डॉक्टर इस आरोप में शामिल किए गए है।

इस मामले में सीबीआई का कहना है कि मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस के सरकारी कोटे पर चिरायु प्रबंधन ने पहले डमी एडमिशन दिया और उसके बाद पहले से पड़े रहे छात्र को पीएमटी दिलाकर उनसे सीट बुक करवाई। इसके बाद बची हुई सीटों को मुंह मांगी रकम में बेचा गया। बता दे कि इससे पहले 2012 के पीएमटी में भी गड़बड़ी के आरोप में डॉक्टर गोयंका को जेल भेजा गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here