राष्ट्रपति ने किया हरसिमरत कौर का इस्तीफा मंजूर, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर को अतरिक्त प्रभार

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को अकाली दल नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री हरसिमरत कौर बादल का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। सरकार की ओर से पेश दो कृषि विधेयकों को किसान विरोधी ठहराते हुए उन्‍होंने गुरुवार को खाद्य प्रसंस्करण मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था। हरसिमरत कौर की जगह राष्‍ट्रपति ने नरेंद्र सिंह तोमर को मंत्रालय का अतिरिक्‍त प्रभार सौंपा है। प्रधानमंत्री द्वारा सलाह-मशविरा के बाद राष्ट्रपति ने कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है।

जानकारीके मुताबिक पीएम नरेंद्र मोदी से सलाह मशवरा के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने हरसिमरत कौर का इस्तीफा संविधान के अनुच्छेद 75(2) के तहत स्वीकार किया है। जिसके बाद राष्ट्रपति ने कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है। इससे पहले भाजपा की सहयोगी शिरोमणि अकाली दल इस अध्यादेश का लगातार विरोध कर रही है। हलाकि संसद में विपक्ष के हंगामे के बावजूद दोनों कृषि विधेयक पारित हो गए।वहीँ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजे गए इस्तीफे में पूर्व कबिनेट मंत्री हरसिमरत कौर ने कहा कि उन्हें विश्वास था कि जब इन अध्यादेशों को अंतिम रूप दिया जाएगा तो अकाली दल द्वारा उठाए गए मुद्दों पर अध्यादेशों का समाधान किया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

बता दें कि लोकसभा में शिरोमणि अकाली दल के सांसद सुखबीर सिंह बादल ने बिल का विरोध किया था।जिसके बाद मोदी कैबिनेट से अपने इस्तीफे की जानकारी हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट कर दी थी. अपने ट्वीट में उन्होंने कहा कि मैंने किसान विरोधी अध्यादेशों और कानून के विरोध में केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है। किसानों के साथ उनकी बेटी और बहन के रूप में खड़े होने का गर्व है। हालांकि इधर शिरोमणि अकाली दल का सरकार को समर्थन जारी रहेगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here