जेल में बंद कैदियों पर अब कोरोना का खतरा, प्रशासन ने किया सुरक्षा का दावा

इंदौर। आकाश धौलपुरे

कोरोना(corona) ने समूचे इंदौर(indore) की मुश्किलें बढ़ा दी है। ऐसे में जेल में बंद कैदियों पर भी अब कोरोना का साया मंडरा रहा है। दरअसल इंदौर की सेंट्रल जेल में बंद 4 कैदियों की रिपोर्ट पॉजिटिव(report positive) आने के बाद जेल प्रशासन अलर्ट(alert) पर है और जेल में एतियाहत कदम उठाए जा रहे है। बता दे कि हाल ही में सेंट्रल जेल(cetral jail) के 7 बंदियों में कोरोना संक्रमण के लक्षण पाए गए थे। जिसके बाद उन्हें इलाज के लिये भेज दिया गया था और रिपोर्ट आने के बाद जेल प्रशासन को पता चला कि 7 में से 4 कैदी कोरोना पॉजिटिव है।

वही एक की रिपोर्ट निगेटिव(negative) आई है इसके अलावा 2 अन्य कैदियों की रिपोर्ट आना बाकि है। उप जेल अधीक्षक लक्ष्मणसिंह भदौरिया की माने तो एतियाहत के तौर पर प्रत्येक कैदी की जांच भी करवाई जा रही है वही जेल में एक अलग वार्ड भी बनाया गया है। दरअसल चंदननगर थाना क्षेत्र में हुए पथराव में आरोपी नासिर पिता कल्लू खां की पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद जेल वार्ड में बंद 97 कैदियों और 16 कर्मचारियों के सैंपल लिए गए थे जिसमें चार नए कैदी संक्रमण का शिकार हुए हैं। इधर जेल में संक्रमण फैलता देख पूरी जेल लॉक डाउन(lockdown) है और सोशल डिस्टेंसिंग(social distancing) का पालन भी कड़ाई से कराया जा रहा है। उप जेल अधीक्षक लक्ष्मण सिंह भदौरिया ने बताया कि अब संक्रमित कैदियों के लिये इंदौर कलेक्टर(indore collector) द्वारा शासकीय कन्या छात्रावास कसरावत खुर्द में अस्थाई जेल बनाई गई है जिसमे 250 कमरे हैं। जहां पर कैदियों पर निगरानी के लिये जेलर सहित दो अन्य अधिकारियों की नियुक्ति भी करने के साथ 30 अन्य लोगो की टीम रहेगी।

उन्होंने बताया कि अस्थायी जेल में कोरोना संक्रमण के लक्षण पाए जाने वाले कैदियों को रखने की व्यवस्था भी की गई है। वही, जेल के कैदियों में कोरोना पाए जाने के मामले में सोशल मीडिया(social media) पर चल रही अफवाहों को विराम देने की अपील के साथ ही जेल उप अधीक्षक ने कहा कि बंदियों के परिजन किसी भी प्रकार की चिंता न करे क्योंकि कोरोना से बचाव के लिये माकूल इंतजाम जेल में है और सभी बंदी सुरक्षित है। इधर, 4 पॉजिटिव कैदियो सहित अन्य 3 कैदी अस्पताल में भर्ती है।