Priyanka Gandhi की असम को गारंटी, हर गृहस्थ महिला को 2000 रू माह, किसी भी हालत में सीएए लागू नहीं होगा

ब्यूरो रिपोर्ट- कांग्रेस(Congress) की वरिष्ठ नेता प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने असम (Aasam)में चुनावी बिगुल बजा दिया है। प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने असम के जोराहट (Jorahat) में चुनावी सभा करते हुए असम की जनता को कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद पांच बड़ी घोषणा गारंटी के रूप में लागू करने का वादा किया। उन्होंने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) पर भी जमकर हमला बोला।

शिव’राज’ के 1 साल, बोले सीएम- अर्जुन की आंख की तरह मेरा भी एक ही लक्ष्य…

जोरहाट में भीड़ को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने कहा कि वे कोई वादा नहीं कर रही बल्कि जनता को गारंटी दे रही है। असम में कांग्रेस की सरकार आने के बाद 5 लाख लोगों को रोजगार दिया जाएगा। प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने कहा कि मैं बीजेपी (BJP) की तरह 25 लाख रोजगार की बात नहीं कर रही क्योंकि यह वादा पूरा नहीं हो सकता जबकि 5 लाख रोजगार का वादा कांग्रेस पूरा करके दिखाएगी। प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने दूसरी घोषणा करते हुए कहा कि यह गारंटी देते हैं कि किसी भी हालत में असम में सीएए (CAA) लागू नहीं होने दिया जाएगा। कांग्रेस किसी भी स्थिति में असम की संस्कृति पर आंच नहीं आने देगी। प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने तीसरी गारंटी देते हुए कहा कि जिस तरह से कांग्रेस के हर शासन में असम को हर बार असम का ही मुख्यमंत्री (Chief Minister) मिला है इस बार भी चुनाव में असम की जनता के बीच में से ही मुख्यमंत्री होगा। असम की जनता को उन्होंने चौथी गारंटी के रूप में हर महीने 200 यूनिट बिजली देने की घोषणा की और इससे लगभग 1200 रू माह की बचत होने का लाभ भी बताया। असम की जनता को उन्होंने वादा किया कि चाय बागान में काम करने वाली औरतों को वे 365 रू रोज की दिहाड़ी दिलाने की गारंटी देती है और इसी के साथ आसाम की हर गृहस्थ महिला को 2000 रू प्रतिमाह दिया जाएगा। यह पैसा हर महिला के खाते में सरकार सीधे डालेगी।

MP Weather Alert: मप्र के इन जिलों में बारिश-ओलावृष्टि की संभावना, येलो अलर्ट

 

इसी के साथ प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक दिन पहले असम में दिए गए भाषण पर भी तंज कसा। प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने कहा कि मोदी जी ने अपने भाषण में एक 22 साल की युवती के ट्वीट पर कि, कांग्रेस असम की चाय खत्म कर रही है, दुख जताया है। बेहतर होता कि मोदी जी को दुख तब होता है जब यहां के लोगों को रोजगार नहीं मिल रहा, असम की हालत ठीक नहीं है और यहां की संस्कृति बर्बाद करने के प्रयास हो रहे हैं। प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) मोदी के दो इंजन वाले बयान पर भी कहा कि पता नहीं कौन सा इंजन कहां से ईधंन लेकर असम का विकास कर पाएगा।