फूल सिंह बरैया की मुश्किलें बढ़ी, विरोध में 10 कांग्रेस नेताओं का इस्तीफा

शनिवार को फूल सिंह बरैया के सवर्णों के खिलाफ कथित बयान के विरोध में 10 कांग्रेस नेताओं ने इस्तीफा दे दिया। नेताओं का कहना है कि बरैया का बयान समाज को तोड़ने वाला है,

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्यप्रदेश उपचुनाव (MP By-election) से पहले भांडेर विधानसभा सीट (Bhander assembly seat) से कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया (Congress candidate Phool Singh Baraiya) की मुश्किलें कम होने का नाम नही ले रही है, उनके वायरल वीडियो (Viral Video) को भले ही चुनाव आयोग ने पुराना मान लिया है , लेकिन आपत्तिजनक बयान को लेकर स्थानीय कांग्रेस नेताओं (Congress leaders) में अब भी गुस्सा है। इसके विरोध में 10 कांग्रेसियों ने इस्तीफा दे दिया है, जिसके बाद पार्टी में हड़कंप मच गया है।

दरअसल, उपचुनाव से पहले बरैया अपनों से घिरते हुए नजर आ रहे है। शनिवार को बरैया के सवर्णों के खिलाफ कथित बयान के विरोध में 10 कांग्रेस नेताओं ने इस्तीफा (Resignation) दे दिया। नेताओं का कहना है कि बरैया का बयान समाज को तोड़ने वाला है, बावजूद इसके पार्टी ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है।  इससे पहले भांडेर के वरिष्ठ कांग्रेस नेता ठाकुरदास खंपरिया ने विरोध में इस्तीफा दे दिया था और BJP में शामिल हो गए थे। इस पूरे घटनाक्रम के बाद पार्टी में हड़कंप मच गया है। भले ही चुनाव आयोग (Election commission) ने बरैया को क्लीन चिट दे दी हो लेकिन अपनों से मिला यह झटका उपचुनाव से पहले कांग्रेस के लिए यह किसी खतरे की घंटी से कम नही है। अब देखना दिलचस्प होगा कि यह बयान मतदान और परिणाम पर कितना असर डालता है।

ये है पूरा मामला
दरअसल, बीते दिनों फूल सिंह बरैया का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें वे कहते नजर आ रहे थे कि अभी भी वक्त है, अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों को जाग जाना चाहिए वरना सवर्ण देश को हिंदू राष्ट्र बना देंगे। मुसलमानों से भारत छोड़ने की बात करने वाले सवर्णों को पहले खुद देश छोड़ना चाहिए क्योंकि वह मुसलमानों के बाद भारत आए हैं। अनुसूचित जाति के लोग और मुसलमान एक ही पिता की संतान हैं, चाहे तो डीएनए टेस्ट करा लिया जाए। वही वीडियो में वे उन्होंने सवर्ण महिलाओं के लिए काफी अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया था।विवादित वीडियो के वायरल होने के बाद से ही भाजपा और करणी सेना कांग्रेस सहित फूल सिंह बरैया पर हमलावर थी, हालांकि प्रेस कांफ्रेंस में फूल सिंह बरैया ने वीडियो को पुराना बताया था। इसके बाद मामला आयोग पहुंचा था, जिसके बाद जांच में वीडियो पुराना पाया गया था।भले ही आयोग ने बरैया को राहत दे दी है लेकिन स्थानीय नेताओं में अब भी आक्रोश व्याप्त है, जो चुनाव में कांग्रेस को भारी पड़ सकता है।

इन नेताओं ने दिया इस्तीफा

  1. कार्यवाहक ब्लॉक अध्यक्ष, इंदरगढ़ शिवरमण सिंह राठौर
  2. लोकेंद्र सिंह दांगी उनाव ब्लॉक अध्यक्ष
  3. महिपाल सिंह गुर्जर जिला अध्यक्ष पिछड़ा वर्ग कांग्रेस एवं कार्यवाहक ब्लॉक अध्यक्ष इंदरगढ़
  4. कमला दिवाकर यादव कार्यवाहक ब्लॉक अध्यक्ष सेंवढ़ा
  5. ऋतुराज मिश्रा टुनटुन महाराज सचिव शहर कांग्रेस
  6. मानवेंद्र सिंह यादव मंडलम अध्यक्ष दुरसड़ा
  7. राजासिंह यादव उड़ीना
  8. आत्माराम दांगी मंडल अध्यक्ष कामद
  9. वीरसिंह कुशवाह बीकर
  10. सुग्रीव यादव उनाव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here