उपचुनाव: सभा के बीच जनता ने BJP प्रत्याशी को नकारा, हाईकमान हुआ परेशान, Video Viral

मुरैना, संजय दीक्षित। विधानसभा अंबाह की आरक्षित सीट से भाजपा के प्रत्याशी कमलेश जाटव के समर्थन में पोरसा की कृषि उपज मंडी प्रांगण में सभा को संबोधित करने पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान,केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया पहुँचे। केंद्रीय मंत्री ने भाषण के दौरान कमलेश जाटव के हाथ को पकड़ कर कहा कि यह रहा आपका प्रत्याशी तभी बीच में खड़े तमाम युवाओं ने विरोध प्रकट करते हुए हाथों से मना किया कि यह प्रत्याशी नहीं चलेगा

घटना को देखकर अतिथिगण काफी आश्चर्यचकित रह गए लेकिन बाद में पता चला कि उसमें भाजपा के लोग भी सम्मिलित थे क्योंकि कमलेश जाटव द्वारा मंच पर लगी होर्डिंग पट भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा का फोटो किसी भी बैनर पर नहीं लगाया था। दूसरी बात यह भी थी कि कमलेश जाटव ने जनता के बीच पहुंच कर क्या किया और अब वो क्या करने वाले हैं। इसका ठीक से जवाब भी नहीं दे पा रहे थे।उन्होंने जनता के बीच पहुंचकर प्रदेश के विकास कार्यों को भी नहीं पहुंचाया ।उनकी इस असफलता के कारण ही काफी हद तक जनता उनसे नाराज थी।इस कारण मंचासीन अतिथियों के सामने जनता ने प्रत्याशियों को नकारने का संदेश दे डाला ।

अब यह बात अलग है कि आगामी चुनाव में सशक्त उम्मीदवार बनाए जाने पर कोई संशोधन नहीं हो सकेगा और सभी भाजपा के नेता कमलेश जाटव को जिताने के लिए पूरी तैयारी के साथ जुड़े हुए हैं लेकिन कमलेश जाटव का अपना खुद का वजूद क्या है इसकी यह जनता के सामने एक बहुत बड़ा सवाल खड़ा हुआ है। जिसको लेकर भाजपा भी चिंतित है।इसके बाद आम सभा को संबोधित करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पिछली कमलनाथ सरकार पर जमकर प्रहार करते हुए कई तंज कसते हुए कहा कि कमलनाथ ने मेरी सारी योजनाए बन्द कर दी,उनको में शुरू करूँगा चाहे मध्यप्रदेश में जो भी बेटा बेटी पैदा हुए हैं , चाहे वह किसी भी समाज के हो आईआईटी में हो या किसी भी क्षेत्र में हो उनके लिए मैंने योजना बनाई है। उनकी फीस उनके माता-पिता नहीं भर भरेंगे उनकी फीस उनका मामा शिवराज सिंह चौहान भरेगा।कमलनाथ की सरकार ने अच्छे नंबर लाने वालों को लैपटॉप देना बंद कर दिया।अब स्कूल में अच्छे नंबर लाने के बाद बच्चों के लैपटॉप इसी साल से फिर से शुरू कर दिया जाएगा। स्कूल में गरीब बच्चों को पढ़ने के लिए दूर दराज जाना पड़ता था।उनके लिए साईकल की सुविधा बन्द कर दी। इसी साल से बेटियों को साइकिल की योजना उनके लिए प्रारंभ कर दूंगा। मैंने योजना बनाई की बुजुर्गों को तीरथ दर्शन करवाऊंगा मुख्यमंत्री तीर्थ योजना भी बंद कर दी। योजना बहुत जल्द ही शुरू कर दी जाएगी।जिससे भगवान को प्रणाम करके अपने जीवन को सफल और सार्थक बना सके ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here