पुलवामा: आतंकी हमले में शहीद हुए विंध्य के सपूत धीरेंद्र त्रिपाठी, सीएम शिवराज ने दी श्रद्धांजलि

सीएम शिवराज(CM Shivraj) ने शहीद जवान धीरेंद्र त्रिपाठी(Dhirendra Tripathi) को श्रद्धांजलि दी है

Dhirendra Tripathi

सतना, डेस्क रिपोर्ट। विंध्य(Vindhya) की माटी ने एक बार फिर भारत माता के चरणों में अपनी जांबाजी का परिचय दिया है। सतना(satna) जिले के एक जांबाज बेटे ने देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया है । भारत के जम्मू कश्मीर के पुलवामा(Pulwama of Jammu Kashmir) जिले में एक बार फिर सोमवार को आतंकी हमले हुए है। आतंकियों की तरफ से हुए इस हमले में मध्य प्रदेश के विंध्य जिले के एक वीर सपूत भारत मां की गोद में हमेशा के लिए सो गया। सतना जिले के शहीद जवान धीरेंद्र त्रिपाठी(Shaheed Jawan Dhirendra Tripathi) श्रीनगर में पदस्थ थे। जहां आतंकियों ने घात लगाकर हमला किया। आतंकियों की तरफ से अंधाधुंध फायरिंग की गई। जिसमें 2 जवान शहीद हो गए जबकि 3 घायल हुए हैं। सीएम शिवराज(CM Shivraj) ने शहीद जवान धीरेंद्र त्रिपाठी(Dhirendra Tripathi) को श्रद्धांजलि अर्पित की।

शहीद जवान धीरेंद्र त्रिपाठी(Dhirendra Tripathi) श्रीनगर के कांधी जलपरी पर तैनात थे। एक बार फिर से सोमवार को पुलवामा जिले में आतंकियों ने घात लगाकर बटालियन पर हमला कर दिया। आतंकियों की तरफ से अंधाधुंध फायरिंग शुरू की गई। इस हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 2 जवान शहीद हो गए। जबकि 3 घायल हुए हैं। इस हमले में सतना जिले के रामपुरबघेलान थाना क्षेत्र के पढ़िया में रहने वाले धीरेंद्र त्रिपाठी भी शहीद हो गए।

बता दे कि शहीद जवान धीरेंद्र त्रिपाठी सतना जिले के पढ़िया में रहने वाले थे। उनके पिता बालाघाट में शासकीय सेवा में पदस्थ है। सेना की ओर से सतना जिला प्रशासन को सहित धीरेंद्र त्रिपाठी की वीरगति की सूचना प्राप्त हुई। घटना की सूचना मिलते ही प्रशासन की टीम गांव पहुंच गई है।

वही शहीद जवान धीरेंद्र त्रिपाठी की शहादत पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(chiefminister shivraj singh chauhan) ने भी श्रद्धांजलि दी है उन्होंने कहा है कि पुलवामा में आतंकियों के कायराना हमले में शहीद हुए मध्य प्रदेश के जवान धीरेंद्र त्रिपाठी के चरणों में श्रद्धा सुमन अर्पित करता हूं। सीएम शिवराज(CM Shivraj) ने कहा कि मातृभूमि पर मर मिटने वाले वीर शहीद की आत्मा की शांति और परिजनों के लिए यह गहन दुख सहने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं।