Rajasthan: Pilot की कॉंग्रेस में वापसी से बदले समीकरण, गहलोत से मिलने पहुँचे निर्दलीय MLA

राजस्थान, डेस्क रिपोर्ट

राजस्थान(Rajasthan) में अब सियासी उथल-पुथल शांत हो गई है। सचिन पायलट(Sachin Pilot) के कांग्रेस(Congress) नेतृत्व से मुलाकात कर वापस पार्टी में लौटने के बाद अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत(Chief Minister Ashok Gehlot) बड़े फैसले लेने की तैयारी में है। जिसके लिए आज गहलोत जैसलमेर पहुंच रहे हैं। माना जा रहा है कि जैसलमेर में गहलोत पायलट समर्थक विधायकों से भी चर्चा करेंगे।

दरअसल सोमवार को सचिन पायलट ने एक बार फिर केंद्रीय नेतृत्व से मुलाकात की थी जहां उन्होंने सोनिया गांधी(Sonia Gandhi), कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी(Former Congress President Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी(Priyanka Gandhi) से अपने मुद्दे पर चर्चा की थी। चर्चा सफल होने के बाद पायलट ने कहा था कि पार्टी के मुद्दे पर बोलना लोकतंत्र के हित में होता है। इससे पहले राजस्थान सियासत में बड़ी भूमिका निभाने वाले
तीन निर्दलीय विधायक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलने उनके घर पहुंचे थे। माना ये भी जा रहा है कि गहलोत समर्थक विधायक पायलट की वापसी से संतुष्ट नहीं हैं और इससे सियासी समीकरण बदल सकते हैं।

इधर ये चर्चा तेज़ है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आज रात जैसलमेर में ही रहकर विधायकों के साथ चर्चा करेंगे। वही वह कल जयपुर(jaipur) के लिए रवाना होंगे। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ सचिन पायलट की मुलाकात जैसलमेर में ही रखी गई है। वहीं राहुल गांधी से पायलट की मुलाकात के बारे में भी मुख्यमंत्री गहलोत को पहले से जानकारी थी। पार्टी नेतृत्व के साथ सचिन पायलट की मुलाकात पर अशोक गहलोत पहले ही बात कर चुके हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि पार्टी में रहने के साथ ही जहर का घूंट पीना पड़ता है। हम पार्टी हाईकमान के साथ हैं। पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व जो भी निर्णय लेता है, हम उसका सम्मान करते हैं। वहीं गहलोत गुट के कई विधायक मुख्यमंत्री से उन पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here