Rajasthan Politics: सियासी घमासान के बीच सामने आया Sachin Pilot का Tweet

सचिन पायलट

जयपुर।
राजस्थान की सियासी हलचल के बीच गहलोत सरकार से बगावत करने वाले सचिन पायलट का एक ट्वीट सामने आया है। ट्वीट में देशवासियों से असम और बिहार में बाढ़ से प्रभावित लोगों की मदद करने की अपील की है। सचिन पायलट ने बाढ़ प्रभावित परिवारों के प्रति संवेदना भी जताई।

राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने असम और बिहार में बाढ़ प्रभावित लोगों की मदद करने की अपील की है। उन्होंने ट्वीट किया है ‘असम और बिहार में बाढ़ प्रभावित सभी परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं. सिर्फ असम में ही बाढ़ से 68 से ज्यादा लोगों की जान चली गई है और 36 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. मैं सभी भारतीयों से अपील करता हूं कि इस बाढ़ की भयावह स्थिति में एक साथ आइए और प्रभावित लोगों की मदद के लिए किए जा रहे प्रयासों का सपोर्ट कीजिए।

इससे पहले उन्होंने 14 जुलाई को ट्वीट किया था। इसी दिन उन्हें उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के पद से बर्खास्त कर दिया गया था। पार्टी द्वारा की गई कार्रवाई के तुरंत बाद पायलट ने ट्वीट करके कहा था कि सत्य को परेशान किया जा सकता है, पराजित नहीं। इसके बाद शाम को उन्होंने ट्वीट करके कहा, ‘आज मेरे समर्थन में जो भी सामने आए हैं, उन सभी को मेरा हार्दिक धन्यवाद और आभार।’

दरअसल, बीते कई दिनों से राजस्थान में सियासी संकट गहराया हुआ है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट आमने-सामने आ गए थे, जिसके बाद कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व ने अशोक गहलोत का दबाव बनाने के लिए सचिन पायलट को राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष पद और उपमुख्यमंत्री पद से हटा दिया है।वही विधायक दल की बैठक में ना पहुंचने पर स्पीकर द्वारा नोटिस दिए जाने के बाद हाईकोर्ट पहुंच गए। इस सियासी संकट के बीच सचिन पायलट ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम से भी बात की। बताया जा रहा है कि चिंदबरम ने सचिन पायलट को वापस कांग्रेस में आने का न्योता दिया और कहा कि बगावत भुला दी जाएगी। साथ ही सचिन पायलट को केंद्रीय नेतृत्व में पद देने का आश्वासन दिया गया है।