Road Accident: सड़क हादसे में महिला आरक्षक की मौत, पुष्प चक्र भेंटकर किया गया सम्मान

सूचना मिलते ही एंबुलेंस और ढोढर चौकी पुलिस मौके पर पहुंची। तत्काल महिला आरक्षक हॉस्पिटल पहुचाया गया। जहा डॉक्टर ने महिला आरक्षक को मृत्यु घोषित कर दिया।

Road Accident

रतलाम, सुशील खरे। इन दिनों महू नीमच हाईवे हादसों का केंद्र बना हुआ है। लगातार हो रहे हर साल जिले में सड़क हादसों में 200 मौतें होती हैं। इस बात को जिले के एसपी गौरव तिवारी ने फोर लेन के निरीक्षण के दौरान खुद स्वीकार किया था। मंदसौर जिले के नारायणगढ़ से छुट्टी से वापस लौट रही एक महिला आरक्षक की अज्ञात वाहन के पीछे से टक्कर मारने से मौत हो गई।

आरती, पिता गोपाल व्यास, उम्र 23 साल पुलिस लाई रतलाम में पदस्त थी। ग्राम दौरवाल जिला मंदसौर की रहने वाली थी। अभी 8 दिन पहले पिता को सांप ने काट लिया था इलाज के लिए घर गई थी। पिता के ठीक होने के बाद वापस रतलाम पुलिस लाइन ड्यूटी पर लौट रही थी। रास्ते मे ग्राम रीछा चान्दा के यहां अज्ञात वाहन ने पीछे से टक्कर मारी।

Read this: MP उपचुनाव: शिवराज सिंह चौहान का बयान- किसानों के ब्याज की गठरी मामा उतारेगा

हादसा इतना खतरनाक था कि महिला आरक्षक की मौके पर ही मौत हो गई। हाईवे से निकलने वाले राहगीरों ने एंबुलेंस और पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही एंबुलेंस और ढोढर चौकी पुलिस मौके पर पहुंची। तत्काल महिला आरक्षक को हॉस्पिटल पहुचाया गया। जहा डॉक्टर ने महिला आरक्षक को मृत्यु घोषित कर दिया।

सूचना मिलने के बाद शहर थाने की पुलिस व सीएसपी प्रदीप सिह रणावत पहुंचे परिजन भी सूचना के बाद अस्पताल पहुंचे। जिसके बाद महिला आरक्षक का पोस्टमार्टम किया गया।  पुलिस लाइन रतलाम से आर आई और सीएसपी जावरा एसडीओपी ग्रामीण सभी ने मिलकर हॉस्पिटल परिसर में ही महिला आरक्षक को पुष्प चक्र भेंटकर सम्मान किया।