अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी के बाद बवाल, भड़की BJP, CM शिवराज सिंह बोले-इमरजेंसी जैसे हालात

मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर लिखा है कि इमरजेंसी (Emergency के समय कांग्रेस ने किस प्रकार पत्रकार और पत्रकारिता को कुचला था ये किसी से छुपा नहीं है। आज कांग्रेस के शह पर महाराष्ट्र सरकार ने इमरजेंसी जैसे हालात फिर बना दिये है।

Arnab Goswami

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। रिपब्लिक टीवी (Republic TV) के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) को आज बुधवार (Wednesday) सुबह मुंबई पुलिस (Maharashtra Police) ने उनके घर से गिरफ्तार (Arrest) कर लिया, जिसके बाद बवाल मच गया है। देशभर की राजनीति गर्माई गई है।एक तरफ कांग्रेस (Congress)-शिवसेना (Shivsena) ने इसे कानूनी कार्रवाई बताया है वही BJP ने इसे शिवसेना की गुंडागर्दी करार दिया है। महाराष्ट्र से लेकर मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) तक नेताओं की प्रतिक्रिया  सामने आ रही है। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) का बड़ा बयान सामने आया है।

मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर लिखा है कि इमरजेंसी (Emergency के समय कांग्रेस ने किस प्रकार पत्रकार और पत्रकारिता को कुचला था ये किसी से छुपा नहीं है। आज कांग्रेस के शह पर महाराष्ट्र सरकार ने इमरजेंसी जैसे हालात फिर बना दिये है।महाराष्ट्र सरकार द्वारा लोकतंत्र विरोधी, पत्रकारिता (Journalism) विरोधी इस कृत्य की मैं घोर निंदा करता हूँ।महाराष्ट्र सरकार के इस लोकतंत्र विरोधी कदम के पीछे पूरी तरह से कांग्रेस है। कांग्रेस ने पहले भी लोकतांत्रिक परंपराओं का तार तार किया है।

शिवराज ने आगे लिखा है कि महाराष्ट्र में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता (Freedom of Expression) को कुचला गया है, प्रेस की आजादी छीन ली गई है । महाराष्ट्र में इमरजेंसी से बदतर हालात है। जिन्होंने लोकतंत्र को कुचलने का प्रयास किया अंततः वे स्वयं समाप्त हो गए हैं।इतना ही नही सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक लोगों की प्रतिक्रियाएं सामने आ रही है।

लोकतंत्र के चौथे स्तंभ को कुचलने की कोशिश-वीडी शर्मा

BJP प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा (BJP State President VD Sharma) ने ट्वीट कर लिखा है कि कांग्रेस की #Emergency वाली मानसिकता अभी तक बरकार है और शिवसेना उनके साथ है। आज अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार करके महाराष्ट्र सरकार ने लोकतंत्र के चौथे स्तंभ को कुचलने का काम किया है। इंतज़ार कर रहा हूँ कि समय – समय पर प्रेस की आज़ादी की दुहाई देने वाले कब बाहर निकलेंगे?

आवाज दबाने से गुनाह नही दबाए जा सकते-रामेश्वर शर्मा

BJP विधायक और प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा (Protem Speaker Rameshwar Sharma) ने ट्वीट कर लिखा है कि #Arnavgoswami की गिरफ्तारी लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ को गिराने की साजिश है । मैं इसका पुरजोर विरोध करता हूँ । “आवाज को दबाने से गुनाह नही दबाए जा सकते”

क्या है पूरा मामला

दरअसल, आज सुबह मुंबई पुलिस ने अर्नब गोस्वामी को एक इंटीरियर डिजाइनर और उनकी मां की आत्महत्या के मामले गिरफ्तार किया है। जबकी रिपब्लिक न्यूज चैनल का दावा है कि अर्नब को उस मामले में गिरफ्तार किया गया है, जो पहले ही बंद किया जा चुका है। पुलिस महानिरीक्षक (कोंकण रेंज) संजय मोहिते ने पुष्टि की कि अर्नब गोस्वामी को रायगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार किया है। हालांकि, उन्होंने अधिक विवरणों देने से इनकार कर दिया। अर्नब को अलीबाग ले जाया जा रहा है और आज बाद में स्थानीय अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here