MP: कांग्रेसियों की पुलिस से झड़प के बाद हंगामा, अध्यक्ष सहित कई नेता गिरफ्तार

इंदौर।
उपचुनाव (by election) से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan)के वायरल ऑडियो वीडियो(Viral audio video) ने सियासी गलियारों में जमकर बवाल मचाया हुआ है।कांग्रेस(congress) चौतरफा सरकार को घेरने में जुट गई है। सोशल मीडिया के बाद अब कांग्रेस सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन कर रही है। आज शुक्रवार को इंदौर कलेक्टर(Indore Collector) पर कांग्रेस ने कथित ऑडियो को लेकर जमकर हंगामा किया। इंदौर कलेक्ट्रेट में कांग्रेस ने राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा।

इस दौरान कांग्रेस और प्रशासन मे आमने-सामने आ गए ।कांग्रेसियों और पुलिस में जमकर झड़प हुई। गुस्साए कांग्रेसियों ने प्रशासन और मुख्यमंत्री के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी और सड़क पर ही बैठने लगे। समझाइश के बाद भी नहीं मानने पर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर जिला जेल भेज दिया। वही बिना अनुमति के कोरोना काल में प्रदर्शन करने पर पुलिस ने कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल (Congress President Vinay Bakaliwal) सहित कई नेताओं को गिरफ्तार कर लिया है।इतना ही नही गिरफ्तारी के बाद जिला जेल के बाहर भी कांग्रेसियों का हंगामा जारी है।

शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल ने कहा कि इंदौर शहर में खुद आकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि केंद्र के इशारे पर मप्र की कांग्रेस सरकार को गिराया गया है। इसका ऑडियो, वीडियो सभी के पास है। कमलनाथ सरकार को जनता ने चुना था, बहुमत की सरकार थी, जिसे साजिश के तहत गिराया गया। हमने गुरुवार को परमिशन मांगी थी, लेकिन हमें इजाजत नहीं दी गई। वहीं, भाजपा को गुरुवार को चौराहे-चौराहे कार्यक्रम आयोजित करने की परमिशन दे दी गई।

ये है पूरा मामला

दरअसल, सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक ऑडियो-वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वे कमलनाथ सरकार गिराने की बात कहते हुए नजर आ रहे है। शिवराज कह रहे है मध्य प्रदेश में बीजेपी(BJP) के वरिष्ठ द्वारा कहे जाने पर ही प्रदेश की कमलनाथ सरकार गिराई गई थी। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया(jyotiraditya scindia) और तुलसी सिलावट(tuli silawat) के बिना उनका मुख्यमंत्री बनना क्या संभव था। इस वीडियो को जहां बीजेपी फेक बता रही है वही कांग्रेस ने सरकार को घेरना शुरु कर दिया और कोर्ट जाने तक की चेतावनी दे डाली ।वही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्वीट कर फिर बड़ा बयान दे दिया। शिवराज ने लिखा है कि पापियों का विनाश करना तो पुण्य का काम होता है। हमारा धर्म भी यही कहता है।इसी को लेकर अब कांग्रेस सड़कों पर उतर आई है और प्रदर्शन कर रही है।