जज़्बे को सलाम: घर में लगी आग को पुलिस ने बुझाया, हर तरफ हो रही कार्य की चर्चा

सिंगरौली।राघवेन्द्र सिंह गहरवार।

कहते है कि धूप हो या छाव या आंधी या तूफान या हो बारिश का मौसम हर हाल में खाकी वर्दी अपने फर्ज और कर्तब्य को निर्वहन करते खड़ी रहती है। हर मुश्किल में लोगो की मदद करने के लिए पुलिस हमेशा ही तत्पर रहती है। कोरोना के ये वीर आज एक बार फिर अपनी जान हथेली पर लेकर गरीब के आशियाने में लगे आग को बुझाने का काम किया है। क्योकि ग्रामीण यरिया में दमकल की व्यवस्था नही होती और बैढन से दमकल जाते जाते गरीब का आशियाना पूरी तरफ से राख में तब्दील हो जाता।

जिसको देखते हुए माड़ा थाना के वीर जवानों ने अपने हाथ से बाल्टी आदि लेकर आग बुझाने की कोशिश करने लगे आखिर कार उन्हें सफलता भी मिली लेकिन इस आग को बुझाने में माड़ा पुलिस के एक वीर जवान उप निरीक्षक राकेश कुमार राजपूत जख्मी हो गए। आग की लपटों से उनके हाथ जल गए फिर भी उनका हौसला कम नही हुआ वो घर के छप्पर पर चढ़कर पानी से आग बुझाने में लगे रहे। राकेश कुमार राजपूत और माड़ा पुलिस के इस कार्य की हर तरफ सराहना हो रही है। वही माड़ा पुलिस ने कहा ये सब हमारे मार्गदर्शक पुलिस अधीक्षक सर के दिशा निर्देश के कारण हो सका है।

आपको बता दे कि माड़ा थाना प्रभारी को सूचना मिली कि ग्राम कचरा में जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षो में लड़ाई हो रही है। जिसके बाद माड़ा थाना प्रभारी डीएसपी अर्चना शर्मा ने उक्त मामले की जानकारी अपने सीनियर अधिकारी सिंगरौली पुलिस अधीक्षक तुषारकान्त विद्यार्थी को दी गई। पुलिस अधीक्षक द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुए थाना प्रभारी को निर्देशित किया गया कि तत्काल घटना स्थल पर टीम भेजकर मामले की जांच की जाए। जिसके बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप कुमार शेन्डे व अनुविभागीय अधिकारी नीरज नामदेव के मार्गदर्शन में माड़ा थाना प्रभारी डीएसपी अर्चना शर्मा के नेतृत्व में टीम गठित कर उप निरीक्षक राकेश कुमार राजपूत की देखरेख में टीम को घटना स्थल पर रवाना किया गया। जहाँ पहुँच कर पुलिस ने देखा कि रामविचारे बैगा निवासी कचरा ने पुरन बैगा व विनोद बैगा से लड़ाई झगड़ा करते हुए उनके घर मे आग लगा दिया। आग की लपटें पूरे घर को अपने आघोष मे ले रही थी कि तभी माड़ा पुलिस के जवानों बाल्टी आदि बर्तनों से आग पर पानी डालना सुरु कर। जिससे आग पर काबू पा लिया गया है। वही आरोपी रामविचारे वैगा को गिरफ्तार करते हुए अपराध क्र. 200/2020 धारा 294,323,506 ,436,34 IPC के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है। उक्त कार्यवाही में राकेश कुमार राजपूत,सहायक उप निरीक्षक नरेश सिंह,आरक्षक भरतलाल मीणा व गुलाब की सराहनीय भूमिका रही