स्कूल शिक्षा विभाग ने कर्मचारियों को दी राहत, 30 दिन में मिलेगा रिजल्ट

बता दें कि अब तक प्रदेश भर में ऑनलाइन सिस्टम पर शिक्षा विभाग में करीब 20 शिकायत दर्ज की गई है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में शिक्षा विभाग (education Department) के कर्मचारियों और सेवानिवृत्त शिक्षकों-कर्मचारियों की समस्याओं का ऑनलाइन निराकरण (online solution) किया जाएगा। वहीं उनके समस्याओं को एक माह के अंदर निपटाया जाएगा। स्कूल शिक्षा विभाग ने अब इसकी तैयारियां कर ली है। शिक्षा विभाग के शिक्षक, कर्मचारी अपनी समस्याओं को शिक्षा पोर्टल पर एम शिक्षा मित्र (M Shiksha Mitra) के जरिए सांझा करेंगे। जिसका निराकरण 30 दिनों के भीतर किया जाएगा।

दरअसल अब शिक्षकों-कर्मचारियों को अपनी समस्याओं के लिए विभाग के अधिकारियों के चक्कर नहीं लगाने होंगे। इसके लिए स्कूल शिक्षा विभाग ने ऑनलाइन सिस्टम परिवेदना निवारण प्रणाली शुरू की थी। इसके लिए विभाग से संबंधित कर्मचारी-शिक्षक अपनी समस्याओं को शिक्षा पोर्टल पर एम शिक्षा मित्र एप में दिए ऑप्शन पर क्लिक शिकायत दर्ज करा सकेंगे। शिकायत दर्ज होने के बाद शिकायतकर्ता के मोबाइल पर एसएमएस (SMS) के माध्यम से जानकारी भेजी जाएगी।

Read More: ज्योतिरादित्य सिंधिया का वार, महापंचायत के नाम पर नाटक नौटंकी कर रही है कांग्रेस

इतना ही नहीं विभाग के शिक्षक कर्मचारी और सेवानिवृत्त शिक्षक कर्मचारियों की समस्याओं का निराकरण 30 दिन के भीतर किया जाएगा। इसके अलावा विभाग के कर्मचारी शिक्षक अपनी समस्याओं के निराकरण को ट्रैक (track) भी कर सकेंगे।हालांकि शिक्षा के शिक्षा पोर्टल पर एम शिक्षा मित्र एप में शिकायत वहीं कर्मचारियों व शिक्षक दर्ज करा सकेंगे। जिनके पास शिक्षा पोर्टल का यूनिक कोड जनरेटेड है। वही शिकायत दर्ज कराते हैं शिकायत विभाग के वरिष्ठ अधिकारी और नोडल अधिकारी के रूप से नामांकित किया जाएगा।

इसके अलावा शिकायतकर्ता की शिकायतों का निराकरण मॉनिटरिंग के लिए नोडल अधिकारी की नियुक्ति की गई है। वहीं शिकायत के निराकरण के बाद आदेश ऑनलाइन अपलोड की जाएगी। बता दें कि अब तक प्रदेश भर में ऑनलाइन सिस्टम पर शिक्षा विभाग में करीब 20 शिकायत दर्ज की गई है। जिसका निराकरण और पारदर्शिता की जिम्मेदारियां भी ऐप में तय है।