कुल गुरु के दरबार में पहुंचे सिंधिया, निभाई राजवंश परिवार की परंपरा, 46 मिनिट बाद मिला आशीर्वाद

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। सिंधिया राजवंश के मुखिया और भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (BJP MP Jyotiraditya Scindia) ने गुरुवार को देवघर स्थित अपने कुल गुरु की पूजा अर्चना की। राज पुरोहितों की देखरेख में सिंधिया ने यहाँ एक घंटे से अधिक समय बिताया और जब परंपरा के अनुसार गुलाब का फूल आशीर्वाद के रूप में उन्हें प्राप्त हो गया, तब वे वहाँ से गए।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गुरुवार की शाम अपने राजवंश के कुल गुरु मंसूर शाह बाबा (Kul Guru Mansoor Shah Baba) की पूजा अर्चना की। राज पुरोहितों के मंत्रोच्चार के बीच सिंधिया ने पारंपरिक परिधान धोती पहनकर पूजा की इसके साथ ही सिंधिया ने कोविड प्रोटोकाल (Covid protocol) का भी ध्यान रखा और पूरे समय मास्क पहनकर पूजा की। सिंधिया करीब 6 बजे सामान्य वेश भूषा में देवघर गोरखी पहुंचे यहाँ उनका स्वागत परंपरा के अनुसार सिंधिया राजवंश के मराठा सरदारों ने किया। उसके बाद उन्होंने पूजा के वस्त्र धोती पहनी लेकिन इस बार वे मास्क भी पहने रहे। पंडितों के मंत्रों के बीच मंसूर शाह बाबा की गद्दी सजाई गई गुलाब के फूलों से सजी ये गद्दी 6 बजाकर 50 मिनट पर पूरी हुई। उसके बाद सिंधिया आशीर्वाद के लिए इंतजार करने हमेशा की तरह गद्दी के सामने बैठ गई।

46 मिनिट बाद मिला गुरु का आशीर्वाद

ज्योतिरादित्य सिंधिया आशीर्वाद के इंतजार में कुल गुरु मंसूर शाह बाबा की गद्दी के सामने बैठे रहे और 46 मिनिट बाद 6 बजकर 35 मिनिट पर गद्दी से गुलाब का फूल आशीर्वाद के रूप में सिंधिया को मिला। जिसके बाद उनकी पूजा संपन्न हुई। देव घर के बाहर मीडिया से बात करते हुए सिंधिया ने कहा कि मैंने अपने शहरवासियों, प्रदेशवासियों और देशवासियों के स्वास्थ्य और सुख सम्रद्धि के लिए प्रार्थना की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here