वरिष्ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने उठाए पार्टी नेतृत्व पर सवाल, कहा- कांग्रेस ने हार को नियति मान लिया!

राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कपिल सिब्बल ने कहा कि कुछ वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी हाईकमान को यह समझाने की कोशिश की थी कि आगे किस विषय पर कार्य करने की जरूरत है लेकिन अगर हम पर पलटवार किया गया है तो इसका परिणाम सबके सामने है।

कपिल सिब्बल

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। बिहार विधानसभा चुनाव और मध्य प्रदेश उपचुनाव (Madhya pradesh by-election) जैसे महत्वपूर्ण चुनाव में कांग्रेस (congress) का प्रदर्शन काफी चिंताजनक रहा है। अब इस विषय पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने एक बार फिर से पार्टी नेतृत्व को घेरना शुरू कर दिया है। अब इस मामले में कपिल सिब्बल (kapil sibbal) ने बड़ी बात कही है। कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व (Congress Working Committee) पर सवाल उठाते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कह दिया कि जनता कांग्रेस को प्रभावी विकल्प के रूप में नहीं देख रही है। इसके साथ ही कपिल सिब्बल ने कहा है कि ऐसा लग रहा है कि कांग्रेस ने हार को अपनी नियति मान लिया है।

दरअसल एक समाचार पत्र को दिए अपने इंटरव्यू में कपिल सिब्बल ने बिहार सहित विभिन्न राज्य में उपचुनाव के नतीजे को लेकर अपनी बात कही है। कपिल सिब्बल ने कहा है कि वह उम्मीद कर सकते हैं की बिहार विधानसभा चुनाव और अन्य उपचुनाव में मिली हार पर पार्टी आत्मनिरीक्षण का कार्य करेगी। इसके साथ ही कपिल सिब्बल ने कहा है कि उपचुनाव की बात करें तो उत्तर प्रदेश (uttar pradesh) के कुछ निर्वाचन क्षेत्र में कांग्रेस प्रत्याशियों ने 2% से भी कम वोट हासिल किए हैं जबकि गुजरात (gujrat) में 3 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई है। वहीं मध्यप्रदेश में कांग्रेस का प्रदर्शन काफी चिंताजनक रहा है।

आत्मनिरीक्षण नहीं करना संगठनात्मक रूप से कांग्रेस की गलती

ऐसी स्थिति में कांग्रेस ने अब तक आत्मनिरीक्षण क्यों नहीं किया यह सोचने योग्य बात है। सवाल के जवाब देते हुए कपिल सिब्बल ने कहा कि अपनी गलतियों का आत्मनिरीक्षण नहीं करना संगठनात्मक रूप से कांग्रेस की गलती रही है। कपिल सिब्बल ने कहा के कांग्रेस पार्टी और उसके सभी नेता जानते हैं कि कहां गलती हो रही है। उनके पास सभी गलतियों के जवाब हैं लेकिन इतना स्पष्ट कहा जा सकता है कि कांग्रेस शायद उत्तरों को समझने के लिए इच्छुक नहीं है।

कांग्रेस को अब खुद को तलाश करने की जरूरत – सिब्बल 

कपिल सिब्बल ने कहा कांग्रेसियों को लगातार भारी गिरावट पर ध्यान देने की जरूरत है। चुनावी प्रक्रिया बदल गई है। कांग्रेस को अब खुद को तलाश करने की जरूरत है। हमें जवाब खोजना होगा। वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि अगर हम अपनी कमियों को नहीं पहचान पा रहे हैं तो हमें परिणाम भी नहीं मिलेंगे। इसके साथ ही राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कपिल सिब्बल ने कहा कि कुछ वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी हाईकमान को यह समझाने की कोशिश की थी कि आगे किस विषय पर कार्य करने की जरूरत है लेकिन अगर हम पर पलटवार किया गया है तो इसका परिणाम सबके सामने है।

अभी भी अलर्ट नहीं कांग्रेस- सिब्बल 

पार्टी की हालत पर चिंता जताते हुए कपिल सिब्बल ने कहा कि अब सोचना है कि कांग्रेस अभी भी अलर्ट नहीं हो पाई है। इसके साथ ही सिब्बल ने कहा कि वह कांग्रेसी और कांग्रेसी ही रहेंगे लेकिन कांग्रेस की लगातार गिरावट के कारण उनपर सवाल करना और उनकी चिंताओं को उठाना हमारा कर्तव्य भी है।

बता दें कि से पहले बिहार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तारिक अनवर(Tariq Anwar) ने भी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की खामियों पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस को सीखने की जरूरत है और पार्टी को मंथन करना चाहिए। इतना ही नहीं बिहार में आरजेडी (RJD) के साथ गठबंधन में रही कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के बाद आरजेडी के नेता शिवानंद तिवारी (shivanand Tiwari) ने भी कांग्रेस की खामियों को सामने रखा था। राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए शिवानंद तिवारी ने कहा कि जब राहुल गांधी को चुनावी अभियान में ध्यान देने की जरूरत थी तब वह अपनी बहन प्रियंका गांधी के यहां जैसलमेर में छुट्टियां मना रहे थे।

अब ऐसी स्थिति में एक तरफ जहां कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं द्वारा ही कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व पर सवाल उठाए जा रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस हाईकमान का इन बातों को दरकिनार करना आगे आने वाले राजनीति में कांग्रेस की स्थिति पर एक बड़ा प्रश्न चिन्ह है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here