वरिष्ठ चिकित्सक ने एडीएम पर लगाया आरोप, कलेक्टर ने दिए जांच के आश्वासन

डिंडौरी।प्रकाश मिश्रा।

कलेक्ट्रेट परिसर में उस समय गहमागहमी का माहौल बन गया जब नगर के वरिष्ठ चिकित्सक और वरिष्ठ भाजपा नेता डॉक्टर सुनील जैन और अपर कलेक्टर रमेश कुमार सिंह के बीच गाड़ी पार्किंग को लेकर विवाद हो गया ।विवाद इतना बढ़ा कि झुमा झपटी की स्थिति निर्मित हो गई।

दरअसल पूरा मामला कलेक्ट्रेट परिसर का है जहां जिला कलेक्टर ने कोरोना की रोकथाम के लिए आपदा प्रबंधन की बैठक बुलाई थी जिसमें नगर के वरिष्ठ चिकित्सक एवं पूर्व भाजपा जिला अध्यक्ष डॉक्टर सुनील जैन भी सम्मिलित होने आए थे ।बताया जाता है कि डॉक्टर सुनील जैन ने अपना चार पहिया वाहन कलेक्ट्रेट परिसर के अंदर पार्क किया था डॉक्टर का चार पहिया वाहन जहां पर पार्क किया गया था उस स्थान को लेकर अपर कलेक्टर रमेश कुमार सिंह ने आपत्ति जताई थी । डॉक्टर सुनील जैन की माने तो अपर कलेक्टर ने कार पार्किंग को लेकर उनसे अभद्र भाषा का प्रयोग किया दोनों के बीच आपसी विवाद इस हद तक बढ़ गया कि मामला झुमा झपटी तक पहुंच गया ।डॉ जैन ने एडीएम पर अभद्रतापूर्ण व्यवहार करने का आरोप लगाया। वहीं इस मामले को लेकर जिला भाजपा नेताओं एवं स्थानीय जन प्रतिनिधियों ने कलेक्टर बी कार्तिकेयन के सामने आपत्ति दर्ज कराई है। डॉक्टर जैन ने मीडिया को बताया कि अधिकारी के द्वारा किए गए अभद्र व्यवहार की शिकायत जिला कलेक्टर से की गई है जिस पर उन्होंने जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन दिया है। उनका यह भी कहना था कि यदि जिला कलेक्टर ऐसे उद्दंड अधिकारी के खिलाफ उचित कार्रवाई नहीं करते हैं तो पार्टी और जनप्रतिनिधि इसका कड़ा विरोध करेंगे।

वही जब अपर कलेक्टर रमेश कुमार सिंह से इस विवाद की जानकारी चाही गई तो उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते लॉक डाउन का पालन कराने के लिए जिले भर में धारा 144 लागू है आरोप लगाने वाले डॉक्टर और भाजपा नेता ने गाड़ी गलत जगह पार्क की थी जिसे मैंने पार्किंग स्थल में खड़े करने की बात कही थी ।मेरे द्वारा नियमों का पालन कराए जाने की बात कहने पर भाजपा नेता भड़क गए और इसी के चलते आपस में विवाद की स्थिति निर्मित हुई। लॉक डाउन के दौरान नियमों का पालन कराने के लिए कभी सख्ती अपनानी पड़ती है बाकी और कोई वजह नहीं है ।वही अपर कलेक्टर रमेश कुमार सिंह ने भी झुमा झपटी होने की बात स्वीकार की है।