पेयजल की भीषण समस्या, एक किमी दूर से लाते हैं पानी, 3 साल से बंद पड़ा नलकूप

कटनी /वंदना तिवारी

सुबह होते ही एक किलोमीटर दूर पेयजल सप्लाई के लिए चालू होने वाले नलकूप में इंतजार, बाल्टी-डिब्बा लेकर नलकूप की ओर सफर, पानी भरने के लिए कतार, सिर और साइकिल पर पानी ढो रहे महिला, पुरुष व बच्चे, पंप में काफी समय तक बारी आने का इंतजार, बूंद बूंद पानी के लिए जद्दोजहद, यह नजारा किसी सुदूर ग्रामीण क्षेत्र का नहीं बल्कि कटनी शहर का है। रविंद्र नाथ टैगोर वार्ड अमीरगंज व चौधरी मोहल्ला के लोग पेयजल के लिए खासे परेशान हैं।

स्थानीय निवासियों का कहना है कि 2 मार्च 2018 को यहां पर सीवर लाइन का काम हुआ था उसी दौरान ठेकेदार द्वारा नलकूप तोड़ दिया गया। उसके बाद से यहां के बाशिंदे बूंद-बूंद पानी के लिए परेशान हो रहे हैं। कई स्थानों पर पाइप लाइन भी तोड़ दी गई है, लेकिन आज तक सुधार कार्य नहीं कराया गया। आलम यह है कि इस समस्या के चलते बस्ती के 3000 से अधिक लोग पेयजल के लिए परेशान हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि कई बार वार्ड प्रभारी, वार्ड पार्षद, नगर निगम के अधिकारियों को सूचना दी। कई बार कार्यालय जाकर मांग की, लेकिन लगभग 2 साल का समय बीतने को है और आज तक पेयजल समस्या का समाधान नहीं किया गया।

हैंडपंप लग रहा ना नलकूप का सुधार
लोगों ने बताया कि यहां पर सीमेंट की टंकी भी बनी हुई है। पहले नलकूप से टंकी में पानी भर जाता था। पूरी बस्ती के लोग टंकी से पानी भर कर अपने घर ले जाते थे, लेकिन लगभग ढाई साल से उन्हें एक से डेढ़ किलोमीटर दूर से पानी ढोना पड़ रहा है। भीषण गर्मी में पानी लाने में और समस्या हो रही है। नलकूप में भीड़ लगती है इससे संक्रमण का भी खतरा बना रहता है। यहां पर हैंडपंप की भी मांग की गई है, लेकिन आज तक ध्यान नहीं दिया गया। नगर निगम के अधिकारी-कर्मचारी बस्ती से दूरी बनाए हुए हैं।

लोगों ने बताई यह समस्या
इन दिनों भीषण गर्मी में जन-बच्चों सहित पहले पानी का इंतजाम करते हैं। कई बार दोपहर में पानी आता है। मेहनत-मजदूरी करने चले जाते हैं तो फिर पानी का इंतजाम नहीं हो पाता। लगातार पेयजल समस्या समाधान की मांग कर रहे हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही।

ये लोग सुबह-सबस पहले उठकर एक किलोमीटर दूर से पानी ढोकर लाते हैं, इसके बाद मेहनत-मजदूरी करने जाते हैं। ठेकेदार द्वारा नलकूप को तोड़ दिया गया है, लेकिन नगर निगम द्वारा सुधार कार्य नहीं कराया जा रहा। वार्ड पार्षद भी ध्यान नहीं दे रहे। अमीरगंज बस्ती के लोग पेयजल, सफाई व्यवस्था, सड़क, नाली की समस्या से भी जूझ रहे हैं। किसी भी जनप्रतिनिधि व अधिकारी द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा। नलकूप में भी सुधार हो जाता है तो क्षेत्र के लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। लोगों का कहना है कि नगर निगम का जो भी अधिकारी कर्मचारी आता है, उससे हम लोग सिर्फ हाथ जोड़कर यही विनती करते हैं कि साहब पेयजल की व्यवस्था करा दीजिए। सफाई हम लोग स्वयं कर लेते हैं। लेकिन आज तक कोई सुनवाई नहीं हुई।

शहर के अन्य क्षेत्रों में भी समस्या
पेयजल की समस्या अभी भी शहर के कई क्षेत्रों में बनी हुई है। सबसे ज्यादा इन दिनों लोग गंदे पेयजल की सप्लाई के कारण परेशान हैं। आजाद चौक मैं कई दिनों से गंदा पानी आ रहा है। इसके अलावा उपनगरीय क्षेत्रों में कम पानी की सप्लाई की समस्या बनी हुई है। नगर निगम के अधिकारी-कर्मचारी बैठक कर निरीक्षण कर समस्या समाधान की बात तो कहते हैं, लेकिन स्थिति जस की तस बनी हैरानी की बात तो यह है कि इतने दिनों से ये लोग निरंतर प्रशासन के संज्ञान में अपनी समस्या ला रहे है उसके बाद भी अभी तक कोई समाधान नही किया गया जल संसाधन विभाग के द्वारा एवं जनप्रतिनिधि भी इनकी समस्या को नज़र अंदाज़ करते दिखाई दिए ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here