खंडवा : शादी की खुशियों में छाया मातम, अनियंत्रित वाहन ने 15 लोगों को रौंदा, 3 की मौत

खंडवा जिले के मूंदी से बीड़ की ओर जा रहे आयसर ट्रक ने पैदल ओर दो पहिया वाहन से चल रहे राठौर समाज के लोगों को कुचल दिया। बेकाबू तेज रफ्तार आयसर ट्रक लोगों को रौदने के बाद सड़क से नीचे उतर कर गड्ढे में फंस गई।

खंडवा, डेस्क रिपोर्ट। शादी की खुशियों में उस समय मातम छा गया, जब एक अनियंत्रित आयशर वाहन ने शादी से लौट रहे लोगों को रौंद दिया। इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई है जबकि करीब दस लोग घायल हो गए। फिलहाल इनमें से तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है। घायलों को खंडवा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बता दे खंडवा जिले के मूंदी से बीड़ की ओर जा रहे आयसर ट्रक ने पैदल ओर दो पहिया वाहन से चल रहे राठौर समाज के लोगों को कुचल दिया। बेकाबू तेज रफ्तार आयसर ट्रक लोगों को रौदने के बाद सड़क से नीचे उतर कर गड्ढे में फंस गई।

इस घटना की जानकारी मिलते ही मूंदी और बीड़ चौकी से पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे। चौकी प्रभारी आरपी यादव के साथ पुलिसकर्मियों ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया। पुलिस के साथ-साथ घटनास्थल पर भाजपा प्रदेश महामंत्री पिछड़ा वर्ग मोर्चा और मूंदी के पूर्व नगर परिषद अध्यक्ष संतोष राठौर भी पहुंचे, जिन्होंने घायलों को अपने वाहनों से जिला अस्पताल पहुंचाया।

हादसे में 50 वर्षीय गेंदालाल राठौर की मौके पर मौत हो गई थी, जबकि उनके भतीजे विशाल राठौर ने अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में ही दम तोड़ दिया, वहीं पांच वर्षीय खुशी अमित राठौर की उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। सानू कमलचंद राठौर (15), हर्षदा पिता राकेश (8) और भारती पति संजय (28) सहित अन्य घायलों का अस्पताल में उपचार चल रहा है।

जानकारी के मुताबिक, वाहन शादी में दहेज का सामान लेकर आया था। विवाह स्थल के नजदीक हुई इस दुर्घटना के बाद वहां बड़ी संख्या में भीड़ जमा हो गई, जिन्होंने घायलों को जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचाने में मदद की, जहां मूंदी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर और स्वास्थ सुविधाओं की कमी को लेकर लोगों ने आक्रोश जताया। घटना की जानकारी लगते ही अस्पताल के बाहर बड़ी संख्या में भीड़ जमा हो गई। घायलों को खंडवा जिला अस्पताल रेफर करने पर एंबुलेंस उपलब्ध नहीं होने से लोगों की नाराजगी और बढ़ गई।