Shivpuri : मूसलाधार बारिश से बाढ़ जैसे हालात, रेस्क्यू जारी, सीएम ने केंद्र से मांगे हेलीकॉप्टर

शिवपुरी, मोनू प्रधान। मूसलाधार बारिश से शिवपुरी के कई क्षेत्र जलमग्न होने की स्थिति में है। पोहरी क्षेत्र में पार्वती एव कूनो नदी में उफान से दर्जनों गांव टापू में परिवर्तित हो गए हैं।हर्रई बरखेड़ी एव सिलपरी में गांव में फसे ग्रामीणों को निकलने के लिए एसडीआरएफ की टीम मौके पर है और मदद कर रही है वहीं एनडीआरएफएचक्यू की टीम भी रवाना हो चुकी है। लोगों को रेस्क्यू करने के लिए एयरफोर्स की टीम से भी संपर्क किया जा रहा है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि बाढ़ में फंसे लोगों को निकालने के लिए सारे प्रयास किए जा रहे हैं और वो स्वयं रेस्क्यू ऑपरेशन की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। उन्होने कहा कि बाढ़ में फंसे भाई-बहन धैर्य रखें, राहत एवं बचाव के हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं। वहीं राज्यमंत्री सुरेश राठखेड़ा के निर्देश पर प्रशासन मौके पर बचाव कार्य में जुटा हुआ है।

शिवपुरी जिले के पोहरी क्षेत्र में बीती रात से जारी मूसलाधार बारिश के बीच नदी नाले उफान पर है जिसके चलते कूनो सहित पार्वती नदी के किनारे बसे दो दर्जन से अधिक गाँवों में संकट की स्थिति बन गई है। ये गांव टापू में बदल गए हैं और लोग यहां फंस गए हैं। हर्रई, वरखेड़ी और सिलपरी आदि गांव में ग्रामीणों के बचाव के लिए लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। सीएम शिवराज सिंह चौहान खुद सारी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं और बचाव कार्य के लिए हेलीकॉप्टर भी भेजे जा रहे हैं।

वही घटना को लेकर केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट कर लिखा है कि मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ मिलकर रक्षा मंत्रालय से स्थिति के बारे में बात कर, लोगों के बचाव के लिए 2 MI-171 V (हिण्डोन ), सूरत से 2 MI -17 V-5 , चंडी से 1 चिनूक हेलीकाप्टर शिवपुरी में भेजवाने का निवेदन किया ।1 ALH और एक M17 हेलीकाप्टर प्रभावित क्षेत्रों की ओर चल पड़े हैंI टास्क फ़ोर्स ग्वालियर पहुँच चुकी है। ईश्वर से प्रभावितों की सुरक्षा की प्रार्थना करता हूँ। केंद्र और प्रदेश सरकार इस मुश्किल घड़ी में प्रदेश के एक -एक नागरिक के साथ डट कर खड़ी है।