Shivraj Cabinet Meeting: विभाग बंटवारे के बाद बुलाई गई कैबिनेट की बैठक, इन मुद्दों पर चर्चा संभव

भोपाल।

मध्य प्रदेश की सियासत(Politics of Madhya Pradesh) में एक तरफ जहां उपचुनाव(By-election) का शोर शामिल है। वहीं दूसरी तरफ शिवराज सरकार ने मंत्रिमंडल विस्तार(Shivraj government expanded cabinet) और विभाग बंटवारे(Department sharing) के बाद बुधवार को शिवराज कैबिनेट(Shivraj Cabinet) की अहम बैठक बुलाई गई है। चर्चा है इस बैठक में प्रदेश से जुड़े कई महत्वपूर्ण मुद्दे पर चर्चा हो सकती है। इसके साथ ही उपचुनाव सहित प्रदेश के विभिन्न इलाकों की समस्याओं पर भी मंत्रियों के साथ विस्तृत मंथन किया जाएगा।

दरअसल बुधवार को सरकार ने 11:00 बजे कैबिनेट की बैठक बुलाई है। एक तरफ जहां सरकार प्रदेशों के कोरोना संक्रमण(Corona infection) से निपटने के लिए अपने मंत्रियों के साथ चर्चा करेगी। वहीं दूसरी तरफ 26 विधानसभा सीटों(26 assembly seats) पर होने वाले उपचुनाव को लेकर भी सरकार बड़ी तैयारी के मूड में होगी। अटकलें यह भी तेज है कि उपचुनाव वाले इलाकों में शिवराज सरकार का खासा ध्यान रहेगा और वहां की समस्याओं पर सरकार की नजर बनी रहेगी। जिसको देखते हुए इन इलाकों के लिए सरकार बड़े फैसले ले सकती है। वही शिवराज सरकार प्रदेश के कुछ बड़े मुद्दे पर भी मंत्रियों से चर्चा व मंथन करने के बाद मुहर लगा सकती है। वही इससे पहले मंगलवार को पूर्व विधायक एवं सिंधिया समर्थक मंत्री मुन्नालाल गोयल ने भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात के बाद उन्हें अपने क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराया था और अधूरे पड़े काम के लिए 10 करोड़ रुपए की मांग की थी। जिससे साफ जाहिर है की कैबिनेट बैठक में सरकार इन मुद्दों पर विशेष चर्चा कर सकती है। वहीं कई महत्वपूर्ण मुद्दे पर शिवराज सरकार आखिरी मुहर भी लगा सकती है।

बता दें कि शिवराज कैबिनेट विस्तार और विभागों के बंटवारे से पहले दो बार कैबिनेट की बैठक बुलाई गई थी किंतु विभाग बंटवारे में फंसे पेंच की वजह से यह बैठक बार-बार निरस्त होती रही। इसके बाद 21 जुलाई को शिवराज कैबिनेट की बैठक बुलाई गई थी किंतु महामहिम राज्यपाल लालजी टंडन के निधन के बाद बैठक को आज के लिए टाल दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here