शिवराज का आश्वासन- “संकट है, लेकिन हम आपको पार निकाल ले जाएंगे”

भोपाल। कोरोना वायरस से बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य कि सरकार एक्शन में आ गई है इसी बीच एक बार फिर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करके जानकारी देते हुए बताया है की कोरोना से लड़ने के लिए सरकार हर संभव प्रयास करने के लिए सज्ज है वहीं उन्होंने बताया है कि प्रदेश में आइसोलेशन वार्ड की व्यवस्था की गई है। रोग के लक्षण देखने पर फौरन टेस्ट के साथ 7 संभागीय मुख्यालय में अलग अस्पताल की भी व्यवस्था की गई है और प्राइवेट सेक्टर अस्पतालों के साथ अनुबंध किए गए हैं। वहीं मेडिकल स्टाफ को पीपीई किट की व्यवस्था भी प्रदान की गई है। सरकार ने प्रदेश की जनता के लिए दो टोल फ्री नंबर 104 और 181 को और अधिक प्रभावशाली बनाने के लिए कार्य कर रही है। जिससे जनता को सरकार के समक्ष अपनी समस्या रखने में कोई परेशानी ना हो। वही मध्य प्रदेश के बाहर राज्य में फंसे लोगों के लिए भी प्रदेश की सरकार अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री एवं सचिवों के साथ लगातार चर्चा कर रही है। शिवराज सिंह ने कहा है कि बाहर है रे लोगों के खाने-पीने की व्यवस्था वह अन्य राज्यों के उच्चस्तरीय व्यक्ति से बात करके करवाएंगे।

मध्य प्रदेश के बाहर के राज्य में लोग फंसे हुए हैं उनकी बात करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि उनके रहने और खाने पीने के लिए दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव से चर्चा कर रहे हैं और वहां उनके रहने और खाने की व्यवस्था करवाई जाएगी। जो लोग सीमावर्ती कलेक्टर यानी राज्यों में आ रहे मध्य प्रदेश के लोगों को सावधानीपूर्वक जांच कर प्रदेश में लाने की व्यवस्था भी की जा रही है। मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया है कि संकट बड़ा है लेकिन हम सब इस संकट से जरूर जल्द ही बाहर निकलेंगे। वहीं से पहले ट्वीट करते हुए शिवराज सिंह ने प्रदेश के वरिष्ठ गणमान्य से भी इस संकट की घड़ी में आर्थिक योगदान करने की बात कही थी।