मुख्यमंत्री शिवराज के निर्देश- दूसरे जिलों के कोरोना मरीजों को ना आने दें भोपाल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में कोरोना (Corona In Madhya Pradesh) तेज रफ्तार से फैल रहा है। प्रदेश में कोरोना हर रोज़ अपना एक नया रिकॉर्ड सेट करते जा रहा है। पिछले 24 घंटों में प्रदेश में रेकॉर्ड कोरोना के केस पाए गए है। बीते 24 घंटों में प्रदेश में कोरोना के 1885 नए केस सामने आए है। यह पहला मौका है जब प्रदेश में इतनी बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज मिले हो। मध्यप्रदेश में कोरोना के कुल केस 75459 हो गए है। वहीं अभी भी 16961 एक्टिव केस है।

प्रदेश में कोरोना से स्थिति चिंताजनक होती जा रही है। वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने आज अधिकारियों के साथ बैठक (Meeting With Officers) कर प्रदेश की कोरोना स्थिति की जानकारी ली और निर्देश दिए कि, दूसरे जिलों से आने वाले रोगियों को भोपाल (Bhopal) न आने दिया जाए, कोरोना का इलाज प्रत्येक जिले में है। केस की संख्या देखते हुए अस्पताओं में बेड (Bed In Hospitals) की क्षमता बढ़ाने के मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए है। वहीं प्रत्येक ज़िले में कंट्रोल कमांड सेंटर (Control Command) हों और डॉक्टर परामर्श देने के लिए उपलब्ध हों मुख्यमंत्री ने यह भी आदेश दिए है।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए है कि प्रदेश के किसी भी अस्पताल में ऑक्सीजन (Oxygen In Hospitals) की कमी न हो यह सुनिश्चित किया जाए। प्रदेश में औद्योगिक क्षेत्र में उपयोग में लाई जा रही ऑक्सीजन का उपचार में प्राथमिकता से उपयोग हो, यह सुनिश्चित किया जाए। मुख्यमंत्री ने सभी को अनिवार्य रूप से मास्क लगाने के निर्देश दिए है और इसके लिए अभियान चलाने की बात भी कही है। मुख्यमंत्री ने लोगों जे भी अपील की है कि बसों में यात्री अनिवार्य रूप से मास्क लगाएँ। मुख्यमंत्री ने कहा कि, अनलॉक के बाद बाज़ार खुल रहे हैं, चुनौती भी बढ़ रही है, इसमें सावधानी बरती जाए। भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर में व्यवस्थाएं पुख्ता हों, बिस्तरों की संख्या बढाई जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here