शिवराज का नया अंदाज, ‘यह मैं हूं,मेरी सरकार है’, देखें वीडियो

 सोशल मीडिया (social media) पर पिछले दिनों वायरल हुए पावरी वीडियो (pawri vedio) जिसमें, अलग-अलग लोग अलग अलग अंदाज में पावरी (पार्टी) के बारे में कह रहे हैं,की तर्ज पर  मुख्यमंत्री (chief minister) ने माफिया (mafia) को ललकारा है।
मंगलवार को इंदौर (indore) के ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर में निर्माण सोसायटी के हितग्राहियों के लिए हुए आयोजन में शिवराज सिह चौहान (shivraj singh chauhan) ने कहा’यह मैं हूं, यह मेरी सरकार है,मेरी प्रशासनिक टीम है,आप देखो भूमाफिया भाग रहा है।’ भूमाफिया को चुनौती देते हुए उन्होंने कहा कि ‘माफिया भाग जाओ,यहां पर मैं बैठा हूं नहीं तो 10 फीट जमीन में गाड़ दूंगा।’ तल्खी भरे अंदाज में शिवराज ने कहा कि ‘इनके दांवपेच मै जानता हूं।अभी यह भागते पानी और पनाह मांग रहे हैं।’
पहली बार लोगों को प्लाट पर हुई देरी पर सीएम (cm) ने कहा कि कहां चूक हुई,यह भी देखना पड़ेगा।कौन-कौन से अधिकारी थे,यह भी देखा जाएगा।उन्होंने अधिकारियों को साफ कहा कि किसी भी आमजन पर कोई अन्याय करें,किसी को छोड़ना मत।
इंदौर के आईजी( ig), कमिश्नर (commissioner)कलेक्टर (collector) डीआईजी (dig) को बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि बुधवार को होने वाली कलेक्टर कमिश्नर कॉन्फ्रेंस में इस तरह का प्रजेंटेशन दीजिए कि इंदौर में किस तरह माफियाओं को खत्म किया गया है।इस मॉडल को पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा।
इस अवसर पर विधायक महेन्द्र हार्डिया (mla mahendra hardia) ने कहा कि कई कॉलोनियों तो ऐसी थी जो वैध काटी गयी लेकिन माफिया ने कब्जा करके अवैध बना दिया।सांसद शंकर लालवानी (mp shankar lalwani) ने कहा कि अभी 10000 से ज्यादा लोगों को प्लॉट मिलना बाकी है।सहकारिता विभाग से इनकी सूची फाइनल की जा रही है।इस कार्यक्रम में प्लॉट पाकर कई लोग भावुक हो गए।उन्होंने मुख्यमंत्री को धन्यवाद देते हुए कहा कि वह जवान थे तब उन्होंने प्लाट लिया,बूढ़े हो गए लेकिन प्लाट अब मिला है और निश्चित रूप से यह शिवराज सरकार के ही प्रयासों का नतीजा है।
https://youtu.be/SW0VZZNUOdM