पचावली गाँव मे सिंध नदी किनारे मिले चांदी के सिक्के, बटोरनें ग्रामीणों में मची होड़

शिवपुरी,मोनू प्रधान।गुना अशोकनगर जिले में हुई भारी बारिश के कारण सिंध नदी उफान पर आ गई थी, रविवार की सुबह सिंध नदीं का पानी उतरा तो नदी किनारे चांदी के सिक्के देखकर ग्रामीण हैरान रह गए, जब यह खबर गाँव मे फैली तो पूरा गांव खुदाई मे जुट गया।इन सिक्कों पर सन 1862 लिखा हुआ है। सिक्कों पर अंग्रेजी में INDIA भी लिखा हुआ है। सूत्रों के अनुसार कम से कम 50 ग्रामीणों को सिक्के मिलने की पुष्टि हुई है। नदी में ग्रामीणों की भीड़ लग गई है। ग्रामीण नदी के किनारे वाले इलाके जहां से बाढ़ का पानी कम हुआ है, मलवा और पत्थर आदि हटाकर सिक्कों की तलाश कर रहे हैं।

VIDEO: Olympic गोल्ड विजेता नीरज चोपड़ा को फिल्मी खलनायक प्रेम चोपड़ा की शानदार बधाई

सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन तब तक भीड़ सिक्के बटोरकर अपने अपने घर को रवाना हो चुके थे।हालांकि पुलिस ने लोगों के घर पहुंचकर पूछताछ की लेकिन सिक्के पुलिस के हाथ नही लगे। लोगों का कहना है कि कोई प्राचीन किला अथवा जमीन में गड़ा हुआ खजाना बाढ़ की चपेट में आ जाने के कारण नदी में बह कर आ गया है। लोग चांदी के सिक्कों के अलावा अन्य बहुमूल्य वस्तुओं की भी तलाश कर रहे हैं। इस लालच में लोग अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं। पचावली ग्राम में सिंध नदी के मुहाने पर मिले चांदी के सिक्कों की खबर ने फिलहाल सबको हैरत मैं डाल दिया।