सिंगरौली: लॉकडाउन में गैस एजेंसियों ने मचाया लूट, डिलीवरी के नाम पर उपभोक्ताओं से वसूल रहे अतिरिक्त शुल्क

सिंगरौली।राघवेन्द्र सिंह गहरवार

सिंगरौली जिले में लॉक डाउन में उपभोक्ताओं को राहत देने के बजाय गैस एजेंसियों द्वारा उपभोक्ताओं से लूट मचाई है। अंजली गैस एजेंसी बैढन के द्वारा 774 रुपये वाला गैस 800 रुपये में उपभोक्ताओं को दिया जा रहा है। आपको बता दे कि अगर आप गैस बुकिंग कराकर रशीद कटवाते है तो उसमें होम डिलीवरी शुल्क भी जुड़ा रहता है। लेकिन अगर आप गैस एजेंसी के गोदाम से गैस उठाते है तो आपको गैस एजेंसी संचालक के द्वारा लिए शुल्क में से 27 रुपये के लगभग पैसे वापस करने होते है।

अगर गैस एजेंसी के द्वारा आपको गोदाम से गैस लेने पर डिलेवरी चार्ज वापस नही किया जाता तो ये सीधे सीधे उपभोक्ताओं के जेब पर डाका डालना कहा जा सकता है। लेकिन होम डिलीवरी का प्रावधान है और लॉक डाउन में जिला प्रशासन द्वारा होम डिलीवरी की बात कही गई है। ताकि गोदाम पर भीड़ इकट्ठा न हो और सोशल डिस्टेंसिंग भी बना रहे लेकिन सिंगरौली जिले के बैढ़न स्थित अंजली भारत गैस एजेंसी द्वारा लोगो को होम डिलीवरी नही दिया जा रहा है। बल्कि एक चिन्हित गांव में गैस से भरी गाड़ी लेजाकर गैस का वितरण किया जा रहा है। जिससे वहां आसपास के दर्जन भर गांव के लोग गैस लेने के लिए इकट्ठा हो जाते है। इतना ही नही अंजली भारत गैस एजेंसी के द्वारा निर्धारित शुल्क 774 रुपये से ज्यादा मनमाने ढंग से 800 रुपये उपभोक्ताओं से लिया जा रहा है।

वही लोगो ने बताया कि जब उपभोक्ता गैस एजेंसी वाले से बोले कि आप 800 रुपये अतिरिक्त शुल्क क्यो ले रहे हैं तो उनका जवाब था ये डिलेवरी चार्ज है। सवाल ये खड़ा होता है कि आखिर कब तक ग्रामीण भोली भाली जनता को गुमराह करके डिलेवरी के नाम पर डबल चार्ज अंजली भारत गैस एजेंसी बैढ़न द्वारा लिया जायेगा। जबकि बुकिंग के समय दिए हुए 774 रुपये में डिलीवरी शुल्क जुड़ा रहता है। फिर पर व्यक्ति 26 रुपये एक्स्ट्रा शुल्क क्यो लिया जा रहा है। जहाँ एक तरफ लॉक डाउन में लोगो के प्रतिष्ठान,दुकाने बंद है। दिहाड़ी मजदूरो के साथ साथ आम जनता की भी आर्थिक स्थिति डगमगा गई है। ऐसे में अंजली गैस एजेंसी द्वारा उपभोक्ताओं के साथ लूट कितना जायज है।

सिंगरौली: लॉकडाउन में गैस एजेंसियों ने मचाया लूट, डिलीवरी के नाम पर उपभोक्ताओं से वसूल रहे अतिरिक्त शुल्क