तस्करी करते रंगे हाथ पकड़ाया आरक्षक, अवैध हथियार बरामद

खरगोन/हरदा।

प्रदेश में कोरोना वायरस(corona virus) के संक्रमण के बीच बदमाशों द्वारा गैरकानूनी काम थमने का नाम नहीं ले रहे थे। लेकिन अब इन अवैध कामों में पुलिसकर्मी(police) भी शामिल हो गए हैं। ऐसी ही एक घटना मध्यप्रदेश(madhya pradesh) के हरदा जिले से सामने आई है। जहां लॉकडॉउन(lockdown) के बीच पुलिसकर्मी द्वारा ही अवैध हथियार एवं जिंदा कारतूस की तस्करी की जा रही थी। जिसके बाद पुलिस द्वारा आरक्षक को हथियार की तस्करी करते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया।

दरअसल मामला खरगोन एवम् हरदा जिले के भीकनगांव का है। जहां डीआरपी लाइन में तैनात प्रधान आरक्षक रोहित यादव सिकलीकर को 5 अवैध पिस्टल, 3 देसी कट्टे और 6 राउंड कारतूस के साथ गिरफ्तार किया गया है। पुलिस को सूचना मिलने के बाद उन्होंने आरक्षक की घेराबंदी की थी। जहाँ रंगे हाथ पकड़ आने के बाद आरक्षक ने भागने का प्रयास किया लेकिन भीखनगांव पुलिस द्वारा उसे गिरफ्तार कर लिया है।

वहीं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जितेंद्र सिंह पवार ने कहा कि पुलिस को सूचना मिली थी कि हथियारों की एक खेप बमनाला से भीकनगांव की और आ रहा है। जिसके बाद आरोपी की घेराबंदी कर उसे दबोचा गया। जिसके बाद पता चला की आरोपी हरदा जिले के डीआरपी लाइन में पदस्थ प्रधान आरक्षक रोहित यादव है। आरोपी की चेकिंग की गई तो उसके कब्जे से 5 अवैध पिस्टल,3 देसी कट्टे ओर 6 राउंड जब्त किए हैं। आरोपी पर कार्यवाही की जा रही है।