सोनिया गांधी का ऐलान- कांग्रेस उठाएगी घर लौटने वाले मजदूरों की यात्रा का खर्चा

नई दिल्ली।
देश में लगातार प्रदेश कोरोना वायरस के मामलों को देखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सोमवार को बडा ऐलान किया है । जिसके तहत कांग्रेस पार्टी देशभर में फंसे मजदूरों के घर वापस जाने के लिए रेलयात्रा का खर्च उठाएगी।उन्होंने बयान जारी कर कहा अगर केंद्र गरीबों से किराया वसूलती है तो कांग्रेस पार्टी उनका किराया कांग्रेस पार्टी भरेगी। रेल मंत्रालय पर कटाक्ष करते हुए सोनिया गांधी मे कहा, पीएम केयर्स फंड में जब रेलवे मंत्रालय 151 करोड़ रुपया दे सकता है तो कई दिनों से राशन पानी से जूझ रहे इन गरीबों से किराया की वसूली क्यों कर रहा है?

दरअसल, देश के विभिन्न राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके गृह राज्य वापस भेजने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं लेकिन इसके लिए उन्हें किराया चुकाना पड़ रहा है। जिसपर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सोमवार को बयान जारी कर सरकार पर निशाना साधा। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने मेहनतकश श्रमिकों व कामगारों की इस निशुल्क रेलयात्रा की मांग को बार बार उठाया है। दुर्भाग्य से न सरकार ने एक सुनी और न ही रेल मंत्रालय ने। इसलिए, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने यह निर्णय लिया है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी की हर इकाई हर जरूरतमंद श्रमिक व कामगार के घर लौटने की रेल यात्रा का टिकट खर्च वहन करेगी व इस बारे जरूरी कदम उठाएगी।मेहनतकशों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े होने के मानव सेवा के इस संकल्प में कांग्रेस का यह योगदान होगा।

कांग्रेस ने ट्वीट करते हुए लिखा है, ‘भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने यह निर्णय लिया है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी की हर इकाई हर जरूरतमंद श्रमिक व कामगार के घर लौटने की रेल यात्रा का टिकट खर्च वहन करेगी व इस बारे जरूरी कदम उठाएगी।पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी का बयान ट्वीट किया गया है।

 

सोनिया गांधी का ऐलान- कांग्रेस उठाएगी घर लौटने वाले मजदूरों की यात्रा का खर्चा