दिल्ली : अतिक्रमण हटाने पहुंची टीम पर मदनपुर खादर में पथराव, पुलिस ने विधायक को हिरासत में लिया

राजधानी दिल्ली में अतिक्रमण पर चल रहे प्रशासन के बुलडोजर पर स्थानीय लोगों ने जमकर पथराव किया। पुलिस ने लोगों को समझाने की कोशिश कि लेकिन जब स्थिति बेकाबू होने लगी तो पुलिस ने लोगों को खदेड़ने के लिए लाठीचार्ज किया, जिसके बाद से वहां के हालात तनावपूर्ण हो गए हैं। फिलहाल, इलाके में पैरामिलिट्री फोर्स ने मोर्चा संभाल लिया है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। राजधानी दिल्ली में अतिक्रमण पर चल रहे प्रशासन के बुलडोजर पर स्थानीय लोगों ने जमकर पथराव किया। पुलिस ने लोगों को समझाने की कोशिश कि लेकिन जब स्थिति बेकाबू होने लगी तो पुलिस ने लोगों को खदेड़ने के लिए लाठीचार्ज किया, जिसके बाद से वहां के हालात तनावपूर्ण हो गए हैं। फिलहाल, इलाके में पैरामिलिट्री फोर्स ने मोर्चा संभाल लिया है। एमसीडी की कार्रवाई के खिलाफ धरने पर बैठे आप विधायक अमानतुल्लाह खान को पुलिस ने हिरासत में ले लिया गया हे। आप विधायक अमानतुल्लाह खान के साथ स्थानीय लोग भी धरने पर बैठे हुए थे।

बता दे अतिक्रमण को लेकर दिल्ली नगर निगम ने काफी सख्त रवैया अपनाया हुआ है। रोस्टर तैयार कर, साउथ दिल्ली एमसीडी अलग-अलग इलाकों से अतिक्रमण हटा रही है। इसी कड़ी में एमसीडी की टीम पुलिस बल के साथ बुलडोजर लेकर मदनपुर खादर पहुंची थी, जहां सुबह से ही एमसीडी की कार्रवाई का विरोध हो रहा था।

पैरामिलिट्री फोर्स की मौजूदगी में एमसीडी की टीम ने यहां के कंचनकुंज में कुछ इमारतों को गिराया, जिसके बाद भीड़ ने एमसीडी और पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। हांलाकि, लोगों ने आरोप लगाया कि पुलिस ने पहले पथराव शुरू किया।

जेल जाने के लिए तैयार हैं : अमानतुल्लाह

एमसीडी की कार्रवाई के खिलाफ धरने पर बैठे अमानतुल्लाह ने कहा कि वे जेल जाने के लिए तैयार हैं, अगर इससे गरीबों के घर बच जाते हैं। उन्होंने कहा, “इस इलाके में कोई अतिक्रमण नहीं है। मैंने एमसीडी से कहा था कि आप आईए कुछ लोगों के साथ, अगर अतिक्रमण होगा, तो मैं खुद हटवाऊंगा, लेकिन पुलिस की मौजूदगी में गलत फायदा मत उठाइये।”

शाहीन बाग से बेरंग लौटा था बुलडोजर

इससे पहले सोमवार को शाहीनबाग में अतिक्रमण हटाने को लेकर अभियान चलाया गया था। लेकिन काफी ज्यादा बवाल होने के कारण वहां से एमसीडी को खाली हाथ की लौटना पड़ा था। प्रदर्शनकारियों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की थी और औरतें बुलडोजर के आगे तक लेट गयी थी।

आपको बता दे, उत्तर प्रदेश से अतिक्रमण के खिलाफ चला बुलडोजर, पहले मध्य प्रदेश पंहुचा था और अब यह जोरों-शोरों पर दिल्ली में कार्रवाई कर रहा है। दिल्ली में बुलडोजर कार्रवाई की शुरुआत जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती पर हुई हिंसा के बाद हुई थी। हालांकि, इस कार्रवाई के खिलाफ कुछ लोग सुप्रीम कोर्ट भी पहुंचे थे। सुप्रीम कोर्ट ने एमसीडी की कार्रवाई पर रोक लगा दी थी।