Suicide : ट्रेन से कटकर नाबालिग युगल ने दी जान, सुसाइड नोट में लिखा- घर वालों की कोई गलती नहीं!

बरामद हुए सुसाइड नोट (Suicide Note) में प्रेमी जोड़े ने एक दूसरे से प्रेम (Love) करने की बात स्वीकारी है। इसी वजह से दोनों ने अपनी जान दी (Suicide) है

wife-eaten-poison-after-husband-also-suicide

सागर,डेस्क रिपोर्ट।  यह इश्क नहीं आसान बस इतना समझ लीजिए एक ट्रेन की पटरी है और कट के जाना है। जी हां एक ऐसा ही मामला सागर जिले से आया है, जहां एक नाबालिग प्रेमी जोड़े (Minor lovers ) ने ट्रेन से कटकर आत्महत्या (Suicide) कर ली। पूरा मामला शुक्रवार का है। नाबालिग युगल (Minor couple) घर से स्कूल के लिए निकले थे लेकिन वह घर वापस नहीं लौटे। नाबालिग प्रेमी जोड़े ने बीती रात 3:30 बजे सानौधा थाने के पास रेलवे ट्रैक पर ट्रेन से कटकर अपनी जान (Suicide) दे दी। दोनों द्वारा सुसाइड नोट (Suicide Note) भी लिखा गया था, जिसे पुलिस द्वारा रेलवे ट्रैक से बरामद किया है। वही मंदिर में चढ़ाया हुआ प्रसाद भी पुलिस को मिला है।

बरामद हुए सुसाइड नोट (Suicide Note) में प्रेमी जोड़े ने एक दूसरे से प्रेम (Love) करने की बात स्वीकारी है। इसी वजह से दोनों ने अपनी जान दी (Suicide) है। दोनों दूर के रिश्तेदार बताए जा रहे हैं। घटना की जानकारी लगते ही तुरंत सानौधा पुलिस, एफएसएल की टीम और रेलवे पुलिस घटनास्थल पर पहुंची।

पूरे मामले को लेकर सानौधा पुलिस के टीआई का कहना है कि नाबालिग प्रेमी जोड़ा गिदवानी गांव का रहने वाला था, जहां नाबालिग छात्र 11वीं में पढ़ता था, वहीं नाबालिग लड़की दसवीं की छात्रा थी। टीआई आगे कहते हैं कि शुक्रवार की सुबह दोनों घर से स्कूल गए हुए थे। दोनों मुहली गांव के शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला में पढ़ते थे। स्कूल से छुट्टी होने के बाद दोनों घर नहीं पहुंचे। अपना बैग स्कूल में ही छोड़कर दोनों सीधा गलगल टोरिया स्थित हनुमान जी के मंदिर पहुंचे। मंदिर में दोनों ने भगवान को प्रसाद चढ़ाया। मंदिर के पंडित ने दोनों को वहां बैठा हुआ देखा था। करीब 4 घंटे मंदिर में बीताने के बाद वह वहां से निकल गए। रात करीब 3:30 बजे प्रेमी युगल ने मंदिर से कुछ दूर स्थित रेलवे ट्रैक पर जाकर अपनी जान दे दी।

जांच के दौरान पुलिस को रेलवे ट्रैक से सुसाइड नोट (Suicide Note) मिला है। कागज ना होने के चलते फोटो के पीछे सुसाइड नोट लिखा गया है, जिसमें लड़की ने लिखा है कि मैं रुद्र (बदला हुआ नाम) से बहुत प्यार करती हूं। इसमें मेरे घर वालों की कोई गलती नहीं है। हम दोनों मुहाली के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में पढ़ते है। हम दोनों मर्जी से अपनी जान दे रहे हैं, इसमें हमारे घर वालों की कोई गलती नहीं है, तो वहीं लड़के ने सुसाइड नोट में लिखा कि मैं अपनी मर्जी से आत्महत्या कर रहा हूं, मेरे घर वालों की कोई गलती नहीं है।

ट्रेन चालकों ने रेलवे ट्रैक पर पड़े शव की जानकारी तुरंत रेलवे पुलिस को दी। जिसके बाद सानौधा थाना पुलिस, एफएसएल की टीम और रेलवे पुलिस मौके पर पहुंची। टीआई बताते हैं कि घटना के बाद मर्ग कायम कर लिया गया है और इसकी जांच शुरू कर दी गई है। मौके से सुसाइड नोट और मंदिर में चढ़ाया गया है प्रसाद बरामद किया गया है। जांच के उपरांत आगे की कोई कार्रवाई की जाएगी।