सुल्तानिया अस्पताल में मंत्री का औचक निरीक्षण, अव्यवस्थाओं पर भड़के, अधीक्षक और सफाई एजेंसी को नोटिस

मंत्री सारंग ने कुछ स्थानों पर साफ-सफाई की अव्यवस्थाओं को देखकर नाराजगी जताई और मौके पर ही जिम्मेदारों को फटकार लगाईं| उन्होंने अधीक्षक और सफाई एजेंसी को नोटिस देने को कहा। साथ ही सफाई एजेंसी का एक माह का पेमेंट रोकने के निर्देश भी दिये।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग (Vishvas Sarang) बुधवार शाम को सुल्तानिया जनाना अस्पताल (Sultania Hospital) औचक निरीक्षण करने पहुंच गए| मंत्री के अचानक दौरे से अस्पताल स्टाफ में हड़कंप मच गया| इस दौरान मंत्री सारंग ने कुछ स्थानों पर साफ-सफाई की अव्यवस्थाओं को देखकर नाराजगी जताई और मौके पर ही जिम्मेदारों को फटकार लगाईं| उन्होंने अधीक्षक और सफाई एजेंसी को नोटिस देने को कहा। साथ ही सफाई एजेंसी का एक माह का पेमेंट रोकने के निर्देश भी दिये।

मंत्री श्री सारंग ने अस्पताल में भर्ती मरीज, उनके परिजन तथा डॉक्टर्स से बातचीत की और अस्पताल की व्यवस्था सहित विभिन्न विषयों की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने संबंधितों को निर्देश दिये कि भर्ती मरीजों के संबंध में स्वास्थ्य की सरकारी योजनाओं के लिये एक हेल्प-डेस्क तैयार की जाये, ताकि मरीजों को योजनाओं के बारे में मौके पर ही लाभ मिल सके। इसके लिये बाकायदा फार्म भरवाने की कार्यवाही भी अस्पताल में ही कर ली जाये।

श्री सारंग ने अस्पताल में रखे कंडम सामान का ऑडिट करा कर हटाने के निर्देश दिये। उन्होंने अंधेरे स्थानों पर तत्काल लाइट की व्यवस्था करने के निर्देश दिये। परिसर में फर्शियाँ, भवन में मरम्मत के छोटे-मोटे काम तत्काल दुरुस्त करने के निर्देश दिये, ताकि मरीजों और उनके परिजनों को किसी भी प्रकार की दुर्घटना का सामना न करना पड़े।

मंत्री श्री सारंग ने जननी एक्सप्रेस आते हुए देखकर उसे रोककर ड्रायवर से लॉक-बुक आदि के बारे में जानकारी भी प्राप्त की। मंत्री ने पूरी बिल्डिंग के विभिन्न वार्डों, कार्यालय, ऑपरेशन थिएटर, रैन-बसेरा आदि की सुविधाओं को देखा। मंत्री ने बिल्डिंग के बारे में प्रजेंटेशन देखा। पुरानी बिल्डिंग वर्ष 1920 में स्थापित की गई थी। सुल्तानिया अस्पताल जल्द ही हमीदिया अस्पताल स्थित नई बिल्डिंग में शिफ्ट होने जा रहा है। इसमें अब 235 की जगह 300 बिस्तर उपलब्ध होंगे और जच्चा-बच्चा को एक ही जगह इलाज की सुविधा उपलब्ध हो सकेगी।

सुल्तानिया अस्पताल में मंत्री का औचक निरीक्षण, अव्यवस्थाओं पर भड़के, अधीक्षक और सफाई एजेंसी को नोटिस