ऊर्जा मंत्री

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश विद्युत वितरण कंपनी (Madhya Pradesh Power Distribution Company)  द्वारा अपने कर्मचारियों पर कड़ी कार्रवाई की गई है। नए बिजली कनेक्शन (New Power connection) देने में विलंब के कारण 3 सहायक प्रबंधक (Assistant Manager) को तत्काल प्रभाव से निलंबित (Suspended) कर दिया गया है। इतना ही नहीं इस मामले में विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक गणेश शंकर मिश्रा ने सभी मैदानी अधिकारियों-कर्मचारियों को सचेत रहने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि हर हालत में अधिकृत प्रकरणों में आवेदन का तुरंत निपटारा किया जाए और कंपनी बिजली उपभोक्ताओं को बेहतर सेवाएं देने के लिए कार्य करें।

Read More: प्रो. सचिन चतुर्वेदी को कैबिनेट मंत्री का दर्जा, मप्र राज्य नीति और योजना आयोग के उपाध्यक्ष नियुक्त

दरअसल मध्य प्रदेश विद्युत वितरण कंपनी द्वारा बासौदा वितरण केंद्र में पदस्थ संजय पुरानी को नए कनेक्शन जारी करने में लापरवाही के कारण तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। इसी के साथ शिवपुर शहर वितरण केंद्र के सहायक प्रबंधक संजीव डूडी को 70 नए बिजली कनेक्शन के आवेदन में राशि जमा करने के बाद भी नया बिजली कनेक्शन नहीं दिए जाने के कारण तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। इसके साथ ही साडोरा वितरण केंद्र में 56 दिन में दो कनेक्शन के आवेदक को बिजली कनेक्शन उपलब्ध नहीं कराए जाने के आरोप में सहायक प्रबंधक नवीन यादव को भी सस्पेंड कर दिया गया है।

Read More: सीएम शिवराज की अधिकारियों को निर्देश- IT-ITV मॉडल पर हो काम, वैक्सीनेशन प्लान पर जोर

कार्रवाई पर बोलते हुए प्रबंध संचालक ने कहा कि कंपनी बिजली उपभोक्ताओं को बेहतर सेवाएं देने के लिए संकल्पित है। अब ऐसी स्थिति में यदि उपभोक्ता असंतुष्ट रहते हैं तो यह विद्युत वितरण कंपनी के लिए उचित नहीं है। प्रबंध संचालक गणेश शंकर मिश्रा ने कहा कि नए कनेक्शन मिलने से कंपनी को राजस्व मिलता है। दूसरी और उपभोक्ता संतुष्टि में भी वृद्धि होती है। इसके साथ उन्होंने नए कनेक्शन देने राजस्व वसूली, बिलिंग और बिजली चोरी में प्रभावी अंकुश लगाने की बात कही है। प्रबंध संचालक ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा है कि उपभोक्ता सेवा के कार्य में कोताही किसी भी तरह से बर्दाश्त नहीं की जाएगी।