शिक्षा की अलख जगाने शिक्षक का नवाचार, ‘आपका विद्यालय आपके द्वार’ के तहत चलाया मोहल्ला क्लास

दमोह, गणेश अग्रवाल कोरोना वायरस संक्रमण के चलते प्रदेश के सभी शासकीय और निजी स्कूलों में नवीन शिक्षा सत्र के चार माह बीत जाने के बाद भी छात्र छत्राओं की क्लासेज शुरू नहीं हो पाई. शासन के निर्देश पर कुछ स्कूलों के माध्यम से बच्चों को ऑनलाइन और मोबाईल के माध्यम से शिक्षा व्यवस्था शुरू जरूर कराई गई लेकिन ग्रामीण अंचलों और संचार विहीन क्षेत्रों में शिक्षा व्यवस्था ठप्प पड़ी हुई है, शिक्षा व्यवस्था को सुधारने और ग्रामीण अंचल में शिक्षा की अलख जगाने के लिए हटा के लिधौरा गांव के शिक्षक माधव पटेल ने अनोखा नवाचार शुरू किया है. शिक्षक की इस नवाचार और पहल की हर तरफ तारीफ हो रही है.

अपनी बाइक पर ब्लेक बोर्ड टांगकर गांव की चौपालों और घरो में बच्चों को क,ख,ग, सहित प्राथमिक और माध्यमिक पाठ्यक्रम की शिक्षा देते दिखाई दे रहे यह शिक्षक हैं माधव प्रसाद पटेल. शिक्षक माधव प्रसाद ने अपने कार्यक्षेत्र और आसपास के गांव में बच्चों को शिक्षा देने के उद्देश्य से मोहल्ला क्लास तकनीक पर यह नवाचार शुरू किया है. जिसके तहत शिक्षक अपनी बाइक पर ब्लेक बोर्ड टांगकर गांव में बच्चों के बीच पँहुचते और बच्चों के बीच स्कूल शुरू कर देते हैं.

हटा के लिधौरा गांव के शासकीय नवीन माध्यमिक शाला लिधौरा में पदस्थ शिक्षक माधव पटेल ने प्रभारी जगपाल सिंह के सहयोग से आपका विद्यालय आपके द्वार कार्यक्रम के तहत मोहल्ला क्लास लगाने के लिए मोटर साइकिल के साइड में ब्लेक बोर्ड बांधकर पूरे गांव का भ्रमण करते है और जहां भी विद्यालय के बच्चे मिलते वही पर मोटरसाइकिल खड़ी करके बच्चों को डिजिलेप और दक्षता उन्नयन के साथ ही हिंदी,अंग्रेजी व गणित लेखन कार्य की पढ़ाई शुरू कर देते हैं. शिक्षकों का कहना है कि इस नवाचार से उनका कार्य आसान हुआ, इससे अधिक संख्या में विद्यार्थियों का शिक्षण हो पाता है और विद्यार्थी भी आनंद पूर्ण हिस्सा लेते है. जिसमे अभिभावक भी पूरा सहयोग कर रहे है. लॉक डाउन में बच्चों की पढ़ाई प्रभावित न हो इसके लिए यह शुरुआत की है.