पुलिस

सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। सिंगरौली जिले में अब तक की सबसे बड़ी कार्यवाही की गई है। मोरवा पुलिस के नाम रिकॉर्ड बना। बता दे कि एक सैकड़ा गाड़ियों पर चालानी कार्यवाही की गई। वहीं 80,000 रुपये का राजस्व की वसूली की गई। आपको बता दे कि लगातार दूसरे दिन आज 100 से अधिक वाहन चालकों के खिलाफ कार्यवाही की गई।

सिंगरौली जिले में आये दिन हो रहे सड़क दुर्घटना को रोकने हेतु सिंगरौली पुलिस अधीक्षक वीरेन्द्र सिंह द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में पिछले दो दिनों से मोरवा थाना प्रभारी मनीष त्रिपाठी “सिंघम” ने लगातार मोरवा थाना क्षेत्र के अलग-अलग स्थानों में वाहन चेकिंग लगाकर कोयला वाहन, बड़े वाहन,पिकअप वाहन सहित दोपहिया चालकों के कागजों की जांच की गई।

जिसमें खासकर कोयला चलाने वाले वाहनों के ड्राइवरों का हेवी लाइसेंस चेक किया गया। वही अन्य कमी पाए जाने पर चलानी भी चलानी कार्यवाही की गई। इसके साथ साथ छोटे वाहन चालक जो लापरवाही करते हैं और इंश्योरेंस खत्म होने के बावजूद भी वाहन चलाते रहते हैं। ऐसे वाहन चालकों के खिलाफ भी चलानी कार्यवाही की गई। इस तरह पिछले 2 दिनों में करीब पौने दो सौ वाहन चालकों के खिलाफ चालानी करते हुए मोरवा पुलिस के द्वारा करीब 80,000 रुपये का राजस्व एकत्रित किया गया।

यह भी पढ़े: MP उपचुनाव 2020 : नतीजों से पहले कांग्रेस प्रत्याशी हेमन्त कटारे की अधिकारियों को चेतावनी

आज भी करीब 100 वाहनों के चालान की कार्रवाही की गई है। साथ ही उन्हें समझाईस दी गई है कि अपना इंश्योरेंस समय पर करावे ड्राइविंग लाइसेंस बनवाये। नाबालिक बालकों को गाड़ियां चलाने ना दे। कोयला वाहनों को डबल ड्राइवर रखने की समझाइश दी गई। साथ ही स्पीड कंट्रोल कर चलाने की भी समझाइश दी गई।

लगातार दूसरे दिन की कार्यवाही में उप निरीक्षक सरनाम सिंह,विनय शुक्ला,सहायक उपनिरीक्षक राम नरेश शुक्ला,प्रधान आरक्षक डी एन सिंह,संतोष सिंह,अरविंद चौबे,बृहस्पति पटेल,आरक्षक संजय सिंह परिहार,सैनिक नायक साहब लाल सिंह शामिल रहे।