लॉक डाउन के बीच रामायण का प्रसारण दोबारा शुरू, ऐसा रहा लोगों का रिएक्शन

इंदौर।आकाश धौलपुरे।

दूरदर्शन पर शुरू हुई रामायण ने लोगों को एक बार फिर धार्मिक आस्था को जगा दिया। कोरोना की संकट की घड़ी में रामायण का दोबारा डीडी नेशनल पर शुरू होना लोगो की धार्मिक आस्था को फिर से जगा। इंदौर में तो लोगो ने उस दौर के अंदाज में बकायदा टीवी की पूजा कर रामायण को देखा वही बच्चो के लिए भी रामायण परिवार के साथ देखना एक नया और अविस्मरणीय अनुभव रहा। 1987 के दौर में जब रामायण शुरू होती थी तो सड़कें खाली हो जाती थी वही आज सड़कें खाली है इसलिए सरकार ने रामायण को शुरू कर दिया। वही लोग भगवान से कोरोना के कहर को थामने की प्रार्थना भी रामायण के जरिये करते दिखाई दिए।

जाने ये खास बातें रामायण के बारे में

रामायण एक बहुत ही सफ़ल भारतीय टीवी श्रृंखला है, जिसका निर्माण, लेखन और निर्देशन रामानन्द सागर के द्वारा किया गया था। ७८-कड़ियों के इस धारावाहिक का मूल प्रसारण दूरदर्शन पर 25 जनवरी, 1987 से 31 जुलाई 1988 तक रविवार के दिन सुबह ९:३० किया जाता था। हाल ही कपिल शर्मा के शो में आये अरुण गोविल, दीपिका, सुनील लहरी और रामानन्द सागर के बेटे प्रेम सागर आये थे और उन्होंने टीवी पर प्रसारित किए गए रामायण सीरीज के अपने अनुभव साझा किए थे। जानकारी के लिए बता दें कि सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने ट्वीट कर बताया है कि सीरियल का पहला एपिसोड सुबह 9 बजे और दूसरा एपिसोड रात 9 बजे प्रसारित किया जाएगा। जिसकी शुरुआत आज से हो गई है। बता दे कि रामायण का टेलिकास्ट दूरदर्शन पर 25 जनवरी 1987 में शुरू हुआ था। उन दिनों दूरदर्शन भारत में चलने वाला एकमात्र टेलिविजन चैनल था।

MP Breaking News MP Breaking News MP Breaking News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here