इंदौर पुलिस का नायाब तरीका, हास्य योग करवाकर मिटा रही बाहर निकलने का रोग

इंदौर।आकाश धोलपुरे

लॉकडाउन उल्लंघन, सोशल डिस्टेसिंग से दूरी और मास्क लगाने को मजबूरी बताकर कोरोना की जंग में शहर को बेकफुट पर ले जाने वालों पर कार्रवाई के लिये इंदौर पुलिस ने नायाब तरीका खोज लिया है। लॉक डाउन के तीसरे दौर में अब तक, इंदौर पुलिस ने भले ही लोगो पर लाठियां बरसाई हो या मेंढक दौड़ लगवाकर लोगो को मुर्गा बनाया हो। लेकिन आज से इंदौर पुलिस ने शहर के कई थाना क्षेत्रों में लोगो को सुधारने के लिए अपना तरीका बदल दिया है।

दरअसल, बेवजह नियमो को ताक पर रखकर बाहर घूमने वालो से सजा के तौर पर कुछ ऐसा करवाया जा रहा है जिससे कि ऐसे लोगो में अपने स्कूली दिनों की यादे तो ताजा हो जाये साथ ही वो कोविड नियमो का उल्लंघन करने की भूल भी न करे। शहर के एरोड्रम, सदर बाजार, चन्दननगर सहित अन्य थाना क्षेत्रों में पुलिस ने आज लॉक डाउन और कोविड से बेपरवाह लोगो की स्ट्रीट क्लास लगाई। पुलिस की इस क्लास में वार्म अप और कसरत कराने के साथ ही योगा व पीटी की ट्रेनिंग भी दी गई।

वही अंत मे पुलिस ने सड़क पर ही ताली बजवाकर हास्य योग भी लोगो से करवाया। ताली बजवाकर कराये गए हास्य योग को देखकर भले ही आपकी हंसी निकल जाए लेकिन पुलिस की इस कोशिश का मकसद सिर्फ इतना है कि लोग बेवजह घर से बाहर न निकले और वे घर पर रहे व सुरक्षित रहे क्योंकि कोरोना किसी को घर लेने नही जाता बल्कि लोग खुद बाहर निकलकर खतरा मोल ले रहे है। फिलहाल, आज सजा के तौर पर जिन लोगो ने पुलिस की स्ट्रीट क्लास अटेंड की है वो अब बाहर निकलने से तौबा करेंगे क्योंकि पुलिस की क्लास में लंच टाइम की कोई गुंजाइश नही है।