लॉकडाउन विस्तार में इन मानकों के साथ मिल सकती है छूट

नई दिल्ली।

देश में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण के बीच मोदी सरकार ने साफ कहा है कि ऐसी स्थिति में लॉक डाउन को खत्म नहीं किया जाएगा। इसके बाद से लॉक डाउन को कई तरह की अटकलें निकलकर सामने आ रही है। माना जा रहा है कि सोमवार को मोदी सरकार लॉक डाउन बढ़ाने की घोषणा कर सकती है। जिसके लिए सरकार द्वारा प्लान तैयार किया जा चुका है। बता दे कि 25 मार्च को प्रधानमंत्री मोदी द्वारा देशव्यापी लॉक डाउन की घोषणा की गई थी। जिसकी अवधि से 14 अप्रैल को समाप्त हो रही है।

दरअसल प्रधानमंत्री द्वारा सभी मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर चर्चा के बाद यह स्थिति साफ हो गई है कि देश में लॉक डाउन पूरी तरह से समाप्त नहीं की जाएगी। इस बीच सरकार जनता को कुछ छूट जरूर दे सकती है। माना जा रहा है कि उद्योग में न्यूनतम कर्मचारी एक साथ एक शिफ्ट में काम कर सकेंगे। वही निर्माण स्थल पर मजदूरों के रहने की व्यवस्था के साथ कंस्ट्रक्शन को भी मंजूरी मिल सकती है। साथ ही ठेले लगाने वाले को घर घर जाकर फल सब्जी की आपूर्ति की अनुमति दी जा सकती है। इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को दुरुस्त करने वाले कर्मचारियों को भी सुरक्षा के साथ काम करने की अनुमति मिल सकती है। सीमेंट उद्योग के कर्मचारी को भी तीन शिफ्ट में काम करने की छूट मिल सकती है। वहीं लॉक डाउन विस्तार की स्थिति में परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने सड़क निर्माण के कार्य शुरू करने को विशेष तौर पर पैरवी की है। अधिकारी के बैठक के साथ उन्होंने कहा के वायरस से सुरक्षित रखने के उपाय के बीच सड़क का निर्माण कार्य शुरू किया जा सकता है।

इसी बीच उद्योग संघ ने प्रधानमंत्री को पत्र लिख आर्थिक दृष्टिकोण से भी सोचने की बात कही है। संभावना है कि अगर इस तरह के निर्णय निकल कर सामने आते हैं तो मजदूरों एवं फुटकर विक्रेताओं की आर्थिक स्थिति को भी बल मिलेगा एवं सुरक्षा के उचित मानक भी तैयार हो जाएंगे।