भोपाल में हालात गंभीर, फिर 283 नए कोरोना पॉजिटिव, 16 हजार पार आकंड़ा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। राजधानी में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) तेजी से बढ़ रहा है। अगर संक्रमण की रफ्तार में कमी नहीं हुई तो भोपाल (Bhopal) प्रदेश का सबसे ज्यादा संक्रमितों वाला शहर बन जाएगा। फिलहाल इंदौर (Indore) में सबसे ज्यादा संक्रमित मरीज है। इधर शहर में शुक्रवार को कोरोना का फिर से एक बड़ा ब्लास्ट हुआ है। आज भोपाल में कोरोना के 283 नए पॉजिटिव मरीज मिले। भोपाल में अब कोरोना का कुल आंकड़ा 16743 हो गया है। अब तक 13949 लोगो कोरोना को मात देकर अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके है। भोपाल में अब 2099 के करीब एक्टिव केस बचे है। वहीं अब तक 375 लोग कोरोना से अपनी जान गवां चुके है।

यहां मिले मरीज
राजभवन से संबंधित 2 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आई। 74 बंगलो से 1 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव आई। चार इमली से 2 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। आयकर कॉलोनी गुलमोहर से 1 व्यक्ति संक्रमित मिला। रेलवे ऑफिसर कालोनी हबीबगंज से 1 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। लोकायुक्त कार्यालय से 1 व्यक्ति संक्रमित मिला। एसबीआई हेड ब्रांच से एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव आई। एम्स से 1 व्यक्ति संक्रमित मिला। जीएमसी से 1 व्यक्ति संक्रमित मिला। आरकेडीएफ मेडिकल कॉलेज से 1 व्यक्ति संक्रमित मिला। जवाहरलाल नेहरू केंसर अस्पताल से 3 लोग संक्रमित मिले। स्मार्ट सिटी हॉस्पिटल से 1 व्यक्ति संक्रमित मिला। हबीबगंज थाने से 1 व्यक्ति संक्रमित मिला। जहाँगीराबाद से 3 लोग संक्रमित मिले।

ठीक होने वालों का प्रतिशत बढ़ा
संक्रमित मरीजों के बढ़ने के साथ ही शहर में ठीक होने वाले मरीजों का प्रतिशत अब बढ़ता जा रहा है। राजधानी में ठीक होने वालों का प्रतिशत 83% से ऊपर पहुंच गया है। यह शहरवासियों के लिए अच्छी बात है। वहीं संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के बाद भी एक्टिव केस का प्रतिशत कम हुआ है। एक्टिव केस का प्रतिशत अभी शहर में 14.53% है।

गोविंदपुरा सर्कल में हुई सबसे अधिक मौतें
गोविंदपुरा एसडीएम सर्कल में 24 दिनों में 896 पॉजिटिव सामने आ चुके हैं यहां सबसे ज्यादा चिंता का विषय है इस माह में हुई 26 मौतें इससे पहले शहर सर्कल में मई और जुलाई में ही 31 और 33 मौत हुई थी जो अब तक किसी माह में हुई मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा है सितंबर में शहर सर्किल में मात्र 488 पॉजिटिव आए हैं और 6 की कोरोना से मौत हुई है

बढ़ते मरीजों के बाद भी कोलार में नहीं दिखती सख्ती
कोलार एसडीएम सर्कल में लगातार मरीज बढ़ रहे हैं कोलर सर्कल में जुलाई माह में 405 पॉजिटिव मरीज सामने आए थे अगस्त माह में यह आंकड़ा 575 पहुंच गया और सितंबर माह में 1550 तक आ गया बावजूद इसके ना तो पुलिस प्रशासन की सख्ती नजर आ रही है और ना ही नगर निगम कोई कार्यवाही कर रहा है मास ना पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने पर भी भारी जुर्माने का प्रावधान होने के बाद भी इसका पालन नाम के लिए ही किया जा रहा है

किस सर्कल में कितने बढ़े मरीज
कोलार सर्कल में अगस्त के महीने में 575 मरीज थे, जो सितंबर में बढ़कर 1550 हो गए। गोविंदपुरा में अगस्त माह में 865 कोरोना संक्रमित थे जो, सितंबर में बढ़कर 896 हो गए। बैरागढ़ में अगस्त में आंकड़ा 813 का था, जो सितंबर में 632 हो गया। टीटी नगर में अगस्त माह में 535 संक्रमित थे लेकिन सितंबर में आंकड़ा बढ़ कर 607 हो गया। शहर सर्कल में अगस्त में 574 संक्रमित थे जो सितंबर में घटकर 488 पर आ गया। एमपी नगर में अगस्त के महीने में 591 संक्रमित पाए गए थे वहीं सितंबर महीने में यहां कमी देखी गई है यहां आंकड़ा घट कर 407 पर आगया। हुजूर में अगस्त महीने में 212 केस थे, जो सितंबर में बढ़कर 237 हो गए। वहीं बैरसिया में अगस्त महीने में 73 केस थे जो सितंबर में घटकर 59 हो गए।