दर्दनाक हादसा: सड़क दुर्घटना में 5 मजदूरों की मौत, दो की हालत गंभीर

नरसिंहपुर।

कोरोना(corona) काल के बीच मजदूरों के साथ हो रहे हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। अभी हाल में हुए औरंगाबाद रेल हादसे के बाद अब नरसिंहपुर(narsinghpur) से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है। शनिवार देर रात नरसिंहपुर में हुए एक सड़क हादसे में ट्रक पलटने से 5 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई| वहीँ 2 गम्भीर घायल रूप से घायल हो गए हैं। सभी घायल मजदूरों को जबलपुर रेफर(refer) किया गया है। जहाँ 11 मजदूरों का जिला अस्पताल में इलाज जारी है।

दरअसल शनिवार देर रात नरसिंहपुर के NH44 मुंगवानी थाना अंतर्गत ग्राम पाठा में अचानक ट्रक के पलट जाने से ये बड़ा हादसा हुआ है। हैदराबाद से 20 मजदूर आम से भरे ट्रक में छिपकर अपने घर वापस जा रहे थे। इन 20 मजदूरों में 11 झांसी जबकि 9 एटा से थे। ट्रक(truck) पलटने कि जानकारी मिलने के बाद कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचे। मामले की छानबीन जारी है। घायल मजदूरों को जबलपुर(jabalpur) रेफर कर दिया गया है। जहाँ 11 मजदूरों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीँ 2 मजदूरों की हालत गंभीर बताई जा रही है। एडीएम मनोज कुमार ठाकुर ने बताया कि सभी मजदूरों को हैदराबाद में क्वारंटाइन किया गया था। ये मजदूर क्वारंटाइन खत्म होने के बाद चोरी-छिपे अपने घर झांसी और एटा जा रहे थे। एडीएम ने बताया कि सभी मजदूर ट्रक के ऊपर बैठे हुए थे। हादसे के बाद ट्रक चालक और क्लीनर मौके से फरार हो गए है। ट्रक हैदराबाद से झांसी जा रहा था। ठाकुर ने बताया कि मृतकों में से कुछ की शिनाख्त नहीं हो सकी है।

दुर्घटना में दान साह (60) पिता मैपसिंह लोधी निवासी फिरोजाबाद नगला खसुरिया, योगेश (20) पिता विजेंद्र पाल सिंह हिनोना जिला एटा, टीटू कुमार (38) पिता राजश्री शर्मा जिला एटा, हिनोना, रीतेश (20) पिता शंभू अहिरवार, उदयवीर सिंह (26) पिता चंद्रवीर लोधी जिला ईटा हिनोना, डोरीलाल (26) पिता संताराम लोधी जिला एटा हिनोना घायल हुए हैं।

बता दें कि इससे पहले शुक्रवार की सुबह महाराष्ट्र के औरंगाबाद (Aurangabad) में हुए रेल हादसे (rail accident) में 16 प्रवासी मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई| हादसे में जान गंवाने वाले सभी 16 मजदूर मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के रहने वाले थे| जिसके बाद प्रदेश के शिवराज सरकार ने मृतक मजदूरों के लिए 5-5 लाख रूपए की घोषणा की थी।