अब मेट्रो से भी जुड़ेगा जनजाति गौरव, शिवराज शुक्रवार को करेंगे शुरुआत

MP: इन स्टेशनों में दो आईकॉनिक डिजाइन के होंगे।

भोपाल, हरप्रीत कौर रीन। भोपाल (Bhopal) MP की मेट्रो ट्रेन (Metro Train) भी अब जनजातीय गौरवगाथा (Tribal Pride) गाती दिखाई देगी। दरअसल भोपाल के रानी कमलापति रेलवे स्टेशन (Kamlapati Railway Station) के पास बनने वाले रेलवे स्टेशन का नाम भी रानी कमलापति के नाम पर रखा जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj sing chouhan) शुक्रवार को इसका भूमि पूजन करेंगे।

भोपाल का एक मेट्रो स्टेशन भी अब रानी कमलापति की गौरव गाथा का प्रतीक बनेगा। दरअसल मेट्रो कॉरपोरेशन के द्वारा बनाए जा रहे कमलापति रेलवे स्टेशन के पास मेट्रो स्टेशन को भी गोंड रानी कमलापति के नाम पर रखने का निर्णय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लिया है।

Read More: MP OBC Reservation: हाई कोर्ट की रोक बरकरार, 6 दिसंबर को होगी अंतिम सुनवाई

शुक्रवार को भोपाल मेट्रो रेल परियोजना के प्राइवेट कॉरिडोर के 8 मेट्रो स्टेशनों का कार्य शुरू होने जा रहा है और उसका भूमि पूजन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान करेंगे। यह सभी आठ एलिवेटेड मेट्रो स्टेशन विश्व स्तरीय सुविधाओं के बनाए जा रहे हैं। इनमें समाज के सभी वर्गों और दिव्यांगों की आवश्यकताओं का ख्याल रखा जाएगा। इन स्टेशनों में दो आईकॉनिक डिजाइन के होंगे।

आईजीबीसी की प्लैटिनम रेटिंग के ग्रीन बिल्डिंग मानकों के अनुसार ऊर्जा का संरक्षण करने के लिए सभी स्टेशनों पर सोलर पैनल और एलईडी लाइटें लगाई जाएंगी। इन स्टेशनों पर ऑटोमेटिक फेयर कलेक्शन, लिफ्ट, एक्सीलेटर और पावर बैकअप भी उपलब्ध कराया जाएगा। सभी स्टेशनों पर मॉल की तरह सेंट्रल एयर कानकोर्स होगा जिसमे एटीएम, खाद्य आउटलेट, कैफे, मोबाइल रिचार्ज जैसी सुविधाएं उपलब्ध होंगी। भारतीय रेल के रानी कमलावती रेलवे स्टेशन को मेट्रो के स्टेशन के साथ स्काईवॉक के माध्यम से जोड़ा जाएगा और इस मेट्रो स्टेशन का नाम भी रानी कमलापति मेट्रो स्टेशन होगा।