TRP Scam: रिपब्लिक टीवी के CEO विकास खानचंदानी अरेस्ट, अर्णब ने मुंबई पुलिस पर उठाए सवाल

इसके साथ ही रिपब्लिक के एडिटर अर्णब गोस्वामी ने मुंबई पुलिस पर निशाना साधा है।

मुंबई, डेस्क रिपोर्ट। रिपब्लिक ग्रुप (Republic group) और उसके मालिक अर्णब गोस्वामी (Arnab goswami) पर मुसीबत कम होने का नाम नहीं ले रही। एक बार फिर मुंबई पुलिस (mumbai police) ने रिपब्लिक मीडिया ग्रुप (republic media group) पर शिकंजा कसा है। मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक ग्रुप के सीईओ विकास खानचंदानी (Vikas Khanchandani) को गिरफ्तार कर लिया है। उन पर टीआरपी स्कैम (TRP Scam) मामले में ये कारवाई की है। इसके साथ ही रिपब्लिक के एडिटर इन चीफ अर्णब गोस्वामी ने मुंबई पुलिस पर निशाना साधा है।

दरअसल रविवार सुबह रिपब्लिक टीवी के सीईओ विकास खानचंदानी को उनके घर से गिरफ्तार किया है। वहीं टीआरपी स्कैम मामले में अबतक 13 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक के एडिटर अर्णब गोस्वामी की जमानत के 39 दिन बाद ग्रुप के किसी प्रमुख को कब्जे में लिया है।

Read More: बिजली बिल मामला: मीटर बंद, फिर भी कंपनी भेज रही बिल, ये बोले अधिकारी..

वहीं रिपब्लिक सीईओ की गिरफ्तारी पर एक बार फिर अर्णब गोस्वामी ने मुंबई पुलिस सवाल उठाए हैं। अर्णब का कहना है कि विकास द्वारा टीआरपी मामले में लगातार मुंबई पुलिस को सहयोग किया गया। बावजूद इसके पुलिस ने एक बार चालबाज़ी की है। अर्णब ने ये भी कहा कि इस गिरफ्तारी के लिए पुलिस के पास लीगल नोटिस भी नहीं थी। इसके साथ ही अर्णब ने इस गिरफ्तारी को गैर कानूनी बताया है। साथ ही इस मामले में सुप्रीम कोर्ट को हस्तक्षेप की मांग की है।

बता दें कि मुंबई पुलिस द्वारा फेक टीआरपी (Fake TRP) मामले में 6 अक्टूबर को एफआईआर दर्ज की थी। इस मामले में जांच करते हुए आरोप पत्र दाखिल किया था जिसमें रिपब्लिक टीवी का जिक्र था। तब से अबतक पुलिस 13 लोगों को गिरफ्तार किया है। इसके साथ ही रिपब्लिक ग्रुप के सीईओ विकास खानचंदानी से करीबन 100 घंटे पूछताछ की गई थी। वहीं सोमवार को विकास की अग्रिम जमानत होने वाली थी। उससे पहले रविवार सुबह उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।