Road Accident: ट्रक-कार की जोरदार भिड़ंत, 3 की दर्दनाक मौत, CM ने जताया शोक

छतरपुर, डेस्क रिपोर्ट

मध्यप्रदेश में कोरोना संकटकाल और लॉकडाउन के बीच सड़क हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे है। आज मंगलवार सुबह मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में एक सड़क हादसा हो गया । यहां सागर-कानपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक कार और ट्रक की जोरदार भिडंत हो गई जिसमें पति-पत्नि समेत तीन लोगों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। वहीँ दो बच्चें  घायल हो गए हैं जिन्हें पुलिस ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।सीएम शिवराज ने इस घटना पर शोक जताया है।

दरअसल मामला छतरपुर का है। जहाँ सागर-कानपुर राष्ट्रीय राजमार्ग छतरपुर जिले में सागर-कानपुर नेशनल हाइवे पर ट्रक और कार में भिंड़त हो गई। भिड़ंत इतनी भयावह थी कि पति-पत्नि समेत तीन लोगों की दर्दनाक मौत हो गई है। वहीँ दूसरी तरफ हादसे में दंपती के दो बच्चे घायल हो गए हैं। जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

प्रत्यक्षदर्शी के मुताबिक हादसा जानवरों को बचाने के चक्कर में हुआ. मारे गए तीनों लोग एक ही परिवार से थे. बताया जा रहा है कि 22 वर्षीय रोहित तिवारी चित्रकूट धाम के लिए गए थे। चित्रकूट दर्शन करने के बाद देर रात वह घर की ओर रवाना हुए। कार बहादुर सिंह चला रहे थे। मंगलवार को तड़के करीब 6 बजे किसी जानवर को बचाने के प्रयास में कार छतरपुर की ओर से आ रहे ट्रक से जा भिड़ी। ट्रक और कार की आमने-सामने हुई भिडंत में 30 वर्षीय जंगबहादुर सिंह सहित उनकी पत्नी 30 वर्षीय विशाखा और 22 वर्षीय रोहित तिवारी की मौके पर मौत हो गई। जबकि दो घायल बच्चे को दीपक और दीपिका गंभीर रूप से घायल हो गए है। जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है।

सीएम, VD ने जताया दुःख

अब इस मामले में सीएम शिवराज ने शोक जताया है और साथ ही साथ दिवंगत की आत्मा की शांति की प्रार्थना भी की। सीएम शिवराज ने कहा कि छतरपुर में सड़क हादसे में हुई तीन लोगों की मृत्यु का हृदय विदारक समाचार मिला है। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि दिवंगत आत्मा को शांति दें और घायलों को शीघ्र ही पूर्ण स्वस्थ करें। मेरी संवेदनाएँ शोकाकुल परिजनों के साथ हैं। वहीँ प्रदेशाध्यक्ष वी डी शर्मा ने इस घटना पर शोक जताते हुए कहा है कि छतरपुर में एक सड़क हादसे में तीन लोगों की मौत की दुःखद खबर मिली। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान दे एवं शोकाकुल परिवार को इस दुःख को सहने की शक्ति दे। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूँ।