Commonwealth Games 2022 : तुलिका मान ने जूडो में जीता सिल्वर मेडल

फाइनल में स्कॉटलैंड की सारा एडलिंग्टन ने उन्हें मात देकर गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया।

खेल, डेस्क रिपोर्ट। भारतीय जुडोका तुलिका मान ने यहां जूडो के 78 कि.ग्रा वर्ग में सिल्वर मेडल अपने नाम किया। फाइनल में स्कॉटलैंड की सारा एडलिंग्टन ने उन्हें मात देकर गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया। तीन मिनट 29 सेकेंड तक चले मैच में सारा एडलिंगटन ने इपपोन (प्रतिद्वंद्वी को पीठ के बल जोर से पटकना) के जरिए यह मुकाबला जीता।

इससे पहले तुलिका ने सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड की सिडनी एंड्रयूज को हराया था। क्वार्टर फाइनल में उन्होंने मॉरीशस की ट्रेसी डरहोन को मात दी थी।

बता दे,भारत का जूडो में यह तीसरा मेडल है, इससे पहले सुशीला देवी सिल्वर और विजय यादव ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम कर चुके है।

भारतीय जूडो महासंघ की हो गई थी मान्यता रद्द मान्यता

जूडो फेडरेशन ऑफ इंडिया की मान्यता 22 अप्रैल को रद्द कर दी गई थी, जिसके बाद भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के लिए खिलाड़ियों की चयन प्रक्रिया और ट्रायल की निगरानी और आवश्यक बदलाव का सुझाव देने के लिए विशेषज्ञों की एक समिति का गठन किया था। इस समिति में ओलंपियन जूडो खिलाड़ी कावास बिलिमोरिया, संदीप बयाला और सुनीत ठाकुर के अलावा जूडो मास्टर्स अरुण द्विवेदी और योगेश के धडवे शामिल हैं।

अब तक आ चुके है इतने मेडल

इस मेडल के साथ भारत के कुल 16 पदक हो गए हैं। वेटलिफ्टिंग में भारत ने सबसे ज्यादा 9 मेडल जीते है, जहां वेटलिफ्टर मीराबाई चानू, जेरेमी लालरिनुंगा और अचिंता शेउली ने गोल्ड मेडल जीता वहीं संकेत सरगर, बिंदियारानी देवी और विकास ठाकुर ने सिल्वर मेडल जबकि गुरुराजा पुजारी, हरजिंदर कौर और लवप्रीत सिंह ने ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया है।

इसके अलावा भारत ने लॉन बाउल्स और टेबल टेनिस में गोल्ड वहीं बैडमिंटन में रजत पदक पर कब्जा जमाया है। इसके अलावा 35 वर्षीय घोषाल ने स्क्वाश में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम कर कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के लिए पहला मेडल जीता है।