केंद्रीय मंत्री ने कहा- संसद के आगामी सत्र में इन सांसदों पर होगा प्रतिबन्ध

दमोह, गणेश अग्रवाल। कुछ दिनों बाद शुरू होने वाले देश की संसद के सत्र में देश भर के सांसदों को अपनी और अपने परिवार की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पेश करनी होगी उसके बाद ही उन्हें संसद में प्रवेश मिलेगा। इस बात की जानकारी केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री प्रहलाद पटेल ने दमोह में दी है।

अपने संसदीय क्षेत्र दमोह में कार्यकर्ताओं ने वर्चुअली मीटिंग के बाद मीडिया से बात करते हुए मंत्री पटेल ने बताया कि संसद के आगामी सत्र के लिए निर्देश जारी हुए हैं जिसके तहत अब सत्र में शामिल होने के पहले सांसदों को ना सिर्फ अपनी बल्कि अपने परिवार की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पेश करनी होगी । इसके साथ ही संसद के अधिकारियों कर्मचारियों को भी यही सब करना होगा।

दरअसल देश भर में बढ़ रहे कोरोना पाजेटिव मरीजों की तादात के बाद चिंता के हालात हैं जिस पर राय देते हुए मंत्री पटेल का मानना है कि दुविधा के कारण लोग अपना कोरोना टेस्ट नही करा रहे हैं जिससे उन्हें मुक्त होना चाहिए। केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल के मुताबिक अपने संसदीय क्षेत्र के मुख्यालय दमोह को सौ फीसदी सेनेटाइज्ड करने की मुहिम भी शुरू होगी और इसके लिए प्रशासनिक मशीनरी की जगह स्वयंसेवक जमीनी कार्य करेंगे।