निकाय चुनाव की तैयारियां तेज : 16 नगर निगमों में जाएंगे शिवराज, कमलनाथ भी उतरेंगे मैदान में

शिवराज 13 जनवरी से महीने भर में सभी 16 नगर निगम के दौरे करेंगे| वहीं पूर्व सीएम कमलनाथ के दौरे कार्यक्रम भी तय हो गए हैं| इसी महीने कमलनाथ अलग अलग जिलों में पहुंचकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश फूंकेंगे|

शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) में उपचुनाव (Byelection) के बाद अब एक बार फिर चुनावी माहौल तैयार हो गया है| बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) दोनों ही दल आगामी नगरीय निकाय चुनाव (Urban Body Election) की तैयारियों में जुट गए हैं| निकाय चुनाव से पहले नगर सरकार में भाजपा को मजबूती देने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कमान संभालेंगे| शिवराज 13 जनवरी से महीने भर में सभी 16 नगर निगम के दौरे करेंगे| वहीं पूर्व सीएम कमलनाथ के दौरे कार्यक्रम भी तय हो गए हैं| इसी महीने कमलनाथ अलग अलग जिलों में पहुंचकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश फूंकेंगे|

ताबड़तोड़ दौरे करेंगे शिवराज, घोषणाएं भी करेंगे
मुख्यमंत्री शिवराज नए साल में नए अंदाज में नजर आ रहे हैं, मंच से माफिया विरोधी अभियान की तारीफ करते हुए माफियाओं को सीधी चेतावनी दे रहे हैं| वहीं जनता के काम में लापरवाह अफसरों को भी सीएम सख्त लहजे में चेता रहे हैं| सीएम का यह अंदाज चुनाव में बीजेपी को लाभकारी साबित हो सकता है| अलग अलग क्षेत्रों के दौरे के दौरान सीएम कई बड़ी घोषणाएं भी करेंगे| सभी निकायों को पिछले दिनों पांच वर्षीय रोडमैप बनाने के निर्देश दिए थे। नगर निगमों के दौरे के दौरान सीएम पंचवर्षीय योजनाओं का प्रजेंटेशन देखेंगे और क्षेत्र का भ्रमण करेंगे। इस दौरान वे कई निर्माण कार्यों का लोकार्पण व शिलान्यास भी करेंगे।

उपचुनाव की जीत से संतुष्ट बीजेपी का अगला टारगेट निकाय चुनाव
उप चुनाव में 19 सीटों पर जीत हासिल कर बहुमत के साथ सरकार चलने से भाजपा अब निश्चिन्त हो गई है| वहीं अब बीजेपी की नजर नगर निकाय चुनाव पर है| चुनाव मार्च तक टल चुके हैं| ऐसे में अब माहौल बनाने के लिए सीएम ने मोर्चा संभाल लिया है| शिवराज 13 जनवरी – उज्जैन, 15 जनवरी – सागर व कटनी, 16 जनवरी – सतना व सिंगरौली, 22 जनवरी – खंडवा व बुरहानपुर 23 जनवरी – रीवा, 26 जनवरी – जबलपुर समेत अन्य जिलों के दौरे करेंगे|

कमलनाथ भी उतरेंगे मैदान में
इधर कांग्रेस ने भी निकाय चुनाव की तैयारियां तेज कर दी है| कृष कानून को मुद्दा बनाकर कांग्रेस जनता के बीच पहुंचेगी| ट्रेक्टर रैलियां निकालकर कांग्रेस ने इसकी शुरुआत कर दी है| कमलनाथ भी इसी महीने मैदान में उतरेंगे| कमलनाथ 12 जनवरी को धार पहुंचेंगे, जहां यूथ कांग्रेस के होने वाले ट्रेनिंग कार्यक्रम के बहाने वह धार में निकाय चुनाव को लेकर माहौल बनाने की कोशिश करेंगे| 16 जनवरी को छिंदवाड़ा, 19 जनवरी को बालाघाट और सिवनी, फिर 20 जनवरी को मुरैना पहुंचकर किसान आंदोलन के बहाने निकाय चुनाव से पहले कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश करेंगे| अगले महीने दोनों ही दल का चुनाव कार्यक्रम तेज हो जाएगा|